Wednesday , September 20 2017
Home / Khaas Khabar / देशभक्ति जबरन क्यों थोपी जा रही है, इसकी भी एक मुफीद जगह होती है: ट्विंकल खन्ना

देशभक्ति जबरन क्यों थोपी जा रही है, इसकी भी एक मुफीद जगह होती है: ट्विंकल खन्ना

मुंबई: देश में देश भक्ति को लेकर चल रहे हंगामे पर बॉलीवुड अभिनेत्री ट्विंकल खन्ना ने सभी सिनेमा घरों में राष्ट्रगान को चलाये जाने के सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश की आलोचना की है. नेशनल दस्तक के हवाले से लिखे ब्लॉग में ट्विकंल ने कहा कि मैं यह बात समझ नहीं पा रही कि मेरे ऊपर उस वक्त भी जबरन देशभक्ति थोपने की कोशिश क्यों की जा रही है, जब मैं मनोरंजन के लिए थियेटर गई हूं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने आगे लिखते हुए कहा कि, हर चीज के लिए अपनी एक मुफीद जगह होती है. उन्होंने जब वाघा बॉर्डर पर परेड होती है, तब मुंह से अपने आप ‘जय हिन्द’ खुद निकल जाता है.साथ ही वाघा पर जब पाकिस्तानी लोग अपने नारे लगाते हैं, तो हमारे अंदर भी देशभक्ति उबाल मारने लगती है. इसके लिए किसी को कहने की जरूरत नहीं पड़ती है.

मैं अभी यह बात नहीं समझ पा रही हूं कि मुझ पर उस वक्त भी क्यों जबरन देशभक्ति थोपने की कोशिश की जा रही है. जब मैंने ‘बेफिक्रे’ जैसी फिल्म की टिकट खरीदी और रणवीर सिंह को टाइट रेड अंडरवियर में देखने जा रही हूं.

मैं खुद उन लोगों को मानती हूं जिनकी आंखों में राष्ट्रगान सुनते ही आंसू आ जाते है. साथ ही ट्विंकल ने लिखा कि मैं इतनी जोर से राष्ट्रगान गाती हूं कि बच्चे भी झेंप जाते है.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि देश के सभी सिनेमा घरों में राष्ट्रगान बजाया जाए, और जब राष्ट्रगान बजे तो स्क्रीन पर तिरंगा भी दिखना चाहिए. कोर्ट के इस आदेश को लेकर कई मंचों पर बहस चल रही है.

TOPPOPULARRECENT