Thursday , September 21 2017
Home / India / देश के मुसलमानों को संदेह भरी नजरों से देखा जाने लगा है, जो सही नहीं : नसीरुद्दीन शाह

देश के मुसलमानों को संदेह भरी नजरों से देखा जाने लगा है, जो सही नहीं : नसीरुद्दीन शाह

मुम्बई : भारत में मुसलमानों की स्थिति पर अक्सर तमाम तरह के सवाल उठाए जाते रहे हैं। बॉलिवुड स्टार्स अक्सर इस मुद्दे पर अपनी राय देने से बचते रहे हैं। लेकिन देश में मुसलमानों की स्थिति पर ऐक्टर नसीरुद्दीन शाह ने खुलकर बात की है। नसीर का कहना है कि देश के मुसलमानों को अब सताया हुआ महसूस करना बंद कर देना चाहिए। देश के मुसलमानों को संदेह भरी नजरों से देखा जाने लगा है, जो कि सही नहीं है। उनकी देशभक्ति पर सवाल उठाए जाने लगे हैं।

नसीरुद्दीन ने यह सभी बातें एक इंटरव्यू में कही। उन्होंने कहा, ‘भारत के कुछ मुसलमानों का झुकाव पाकिस्तान की तरफ भले ही हो लेकिन उससे कहीं ज्यादा संख्या ऐसे मुसलमानों की है जिन्हें भारतीय होने पर गर्व है और उन पर संदेह करना कतई ठीक नहीं है। देशभक्ति कोई टॉनिक नहीं है, जिसे जबरदस्ती दिया जाए। आज भारतीय मुसलमान आर्थिक और शैक्षिक तौर पर बहुत कमजोर हैं लेकिन फिर भी उन्हें सानिया मिर्जा के स्कर्ट की लंबाई पर ध्यान देना जरूरी होता है। आज का मुसलमान आईएसआईएस की बर्बरता की निंदा नहीं करता, ठीक उसी तरह जैसे कोई हिंदू गौरक्षकों के किसी मुसलमान को मार दिए जाने को गलत नहीं समझता।’

TOPPOPULARRECENT