Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / देश के सामने मन्दिर-मस्जिद कोई समस्या नहीं, अगर है तो वह है किसानों की आत्महत्या: नितीश कुमार

देश के सामने मन्दिर-मस्जिद कोई समस्या नहीं, अगर है तो वह है किसानों की आत्महत्या: नितीश कुमार

राजगीर: जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्मंत्री नितीश कुमार ने प्रवीण तोगड़िया के राम मंदिर बनवाने के बयान के खिलाफ गंभीर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि जय श्री राम सभी बोलते हैं आप भी बोलिए हमें कोई आपत्ति नहीं। लेकिन श्री तोगड़िया के मंदिर बनवाने की बात की हम कड़ा विरोध करते हैं। आज देश के सामने मंदिर और मस्जिद के निर्माण की समस्या नहीं है, बल्कि फ़िक्र और विमर्श के लिए अगर कोई बात है तो वह है आत्महत्या कर रहे किसान। अपनी खस्ता हाली की वजह से किसानों की आत्महत्या का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में उनकी समस्याओं को हल करने पर विचार करने की जरूरत है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराब पर पा करने कानून सख्त प्रावधानों को लेकर हो रही आलोचना के मद्देनजर आज इस कानून पर विचार करने का संकेत देते हुए कहा कि राज्य में लागू शराबबंदी कानून के नियम अगर सख्त हैं तो उस पर विचार किया जा सकता है लेकिन इसे समाप्त नहीं किया जाएगा।
श्री कुमार ने रविवार को शुरू हुए दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक के अंतिम दिन संबोधित करते हुए कहा कि राज्य की जनता के हितों का ध्यान रखते हुए हमने शराबबंदी कानून लागू किया है। अगर इस कानून के नियम अधिक कठोर हैं तो उस पर विचार किया जा सकता है लेकिन इस कानून के साथ न तो कोई समझौता किया जाएगा और न ही इसे खत्म किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT