Monday , September 25 2017
Home / Delhi News / “देश भक्त” की ना कोई मज़हब होती है ना कोई धर्म- शहजाद पुनावाला

“देश भक्त” की ना कोई मज़हब होती है ना कोई धर्म- शहजाद पुनावाला

“जश्ने आज़ादी के मौके पर नेशनल सेकुलर ऐसोसिएशन के मुख्य संरक्षक श्री शहज़ाद पूनावाला की ओर से ‘‘भारतीय लोकतन्त्र को खतरे और उनका समाधान’’ प्रोग्राम आयोजित”

नई दिल्ली: जश्ने आज़ादी के मौके पर “नेशनल सेकुलर ऐसोसिएशन” की जानिब से “भारतीय लोकतन्त्र को खतरे और उनका समाधान” के विषय पर सीलमपुर में प्रोग्राम आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि शहज़ाद पूनावाला, जनरल सेक्रेट्री, महाराष्ट्र कांग्रेस, सुबोध कान्त सहाय पूर्व सांसद, आचार्य प्रमोद कृष्णन, चैधरी मतीन अहमद पूर्व विधायक, जे.पी. अग्रवाल, पूर्व सांसद, मौलाना ज़ाहिद रज़ा रिज़वी के अलावा ऐसोसिएशन के तमाम मेम्बरान मौजूद थे।

इस अवसर पर उत्तराखण्ड से आये मौलाना ज़ाहिद रिज़वी ने कहा कि हिन्दुस्तान की ज़ंग-ए-आज़ाद की लड़ाई में तमाम धर्म के लोगों ने मिलकर लड़ी है, कुर्बानी दी है, और अपने प्यारे मुल्क हिन्दुस्तान को आज़ाद कराया। हमारे “उलमाए किराम” भी फांसी के तख्त पर लटके है।

सीलमपुर के पूर्व विधायक चैधरी मतीन ने “आर.एस.एस. पर हमला करते हुए कहा कि ज़ंगे आज़ादी में मुसलमानों ने अपने सीने पर गोलियां खाई है, हमारे भाई ने अपने सीने पर गोली खाई है, आज भी वो निशान मौजूद है, क्या आर.एस.एस. वालों ने अपने सीने पर गोली खाई है? सबसे चौकाने वाली बात यह है कि उन्होने जब अपने क्षेत्र वासियों से पूछा कि क्षेत्र में कोई परेशानी है, तो क्षेत्रवासियों ने कहा जब से “आप” सरकार आई है तब से लोग पेरशान है।
IMG-20160821-WA0005
इस मौके पर पूर्व सांसद सुबोध कान्त सहाय ने अवाम से खिताब करते हुए कहा कि आज कश्मीर के लाल चैक पर बीजेपी तिरंगा क्यों नही लहराती?, आज तो तुम्हारी सरकार है, आज क्यों नही जा रहे हो, उन्होंने जबर्दस्त हमला करते हुए कहा “बीजेपी बुज़दिलों की जमाअत है” उन्होने कहा कि कश्मीरी कभी पाकिस्तान के सपोर्टर नही रहे। कश्मीरी जंगे आज़ादी के सिपाही है, आज शाम जश्ने आज़ादी कश्मीरी नौजवान के नाम। इस देश का सेकुलीरिज़म अगर कोई है तो वह ‘मुसलमान’ है। प्रोग्राम के बीच पहुंचे पूर्व सांसद जे.पी.अग्रवाल ने जश्ने आज़ादी के मौके पर हमारे देश को आज़ादी दिलाने वाले कुर्बान शहीदो को याद किया, और कहा कि 1947 में एक लम्बी जद्दोजहद के कुर्बानी के बाद आज़ादी मिला, बहुत कुर्बानियां दी। हिन्दुस्तान को आज़ाद कराने में महात्मा गांधी थे तो मौलाना अबुल कलाम आज़ाद भी थे, उन्होने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि आज हमे वो रास्ता बता रहे है जो खुद भटके हुए है, जो सरकार मे है, वो पूर्वाग्रह बरत रहे है। जे.पी.अग्रवाल अपने भाषण के बाद चले गये।

आवाम से खिताब करते हुए कांग्रेस के सीनियर नेता “शहज़ाद पूनावाला” ने कहा कि हिन्दुस्तान की आज़ादी के बाद भी भारतीय लोकतन्त्र को खतरा आखिर क्यों है? उन्होने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मोदी और बीजेपी दोनो चाहते है कि बड़ी जाति और छोटी जाति में लड़ाई हो, ताकि यूपी में होने वाले चुनाव में हमे लाभ हो। उन्होने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए बोला कि गौरक्षा के नाम पर दलित और मुस्लिम को मारा जा रहा है, उन्होने तिरंगा लहराने की बात कहते हुए कहा कि आर.एस.एस.पहले अपने हेड क्वार्टर नागपुर में तिरंगा लहराए, फिर तिरंगा यात्रा निकाले।
IMG-20160821-WA0014
मालूम हो कि तिरंगा फहराने की बात को उठा कर शहजाद पुनावाला ने एक इतिहास को उजागर किया। जैसा कि देश को मालूम है आर.एस.एस. कई दशकों तक तिरंगे में विश्वास नहीं करता था। कई वर्षों तक आर.एस.एस. अपने हेड क्वार्टर नागपुर में तिरंगा नहीं फहराते थे। लगभग तीन हजार की भिड़ में शहजाद पुनावाला ने आर.एस.एस. के एक-एक इतिहास को उजागर किया। देश के सामने आर.एस.एस. से जुड़ी सच्चाइयों को रखा। शहजाद पुनावाला को सुन कर लोगों में एक सच्चे देशभक्ति का जज्बा और जोश पैदा हुआ।
IMG-20160821-WA0010
आचार्य प्रमोद कृष्णन जी ने सबसे पहले तमाम लोगो को जश्ने आज़ादी की बधाई दी, उसके बाद शहीदो की कुर्बानी पर टिप्पणी की। उन्होने कहा कि शहीदो को चित्रो पर माला चढ़ाना आसान है पर शहादत कैसी दी जाती है या बड़ा मुश्किल है, उन्होने भगत सिंह और उनकी माँ की कहानी बयान की। और आरएसएस पर हमला करते हुए कहा कि इस वक्त हमारे देश पर हमले हो रहे है, आज हम लोग एक होना पड़ेगा, इस हिन्दुस्तान को बचाने के लिए, जमहूरियत को बचाने के लिए।
IMG-20160821-WA0006
आचार्य जी ने कहा कि ज़ालिम की हुकूमत ज्यादा दिन नही टिकती, आज एक साजिश हो रही है, इस देश का मुसलमान देश पसन्द नही है, हिन्दुस्तान का मुसलमान बाई चान्स नही बल्कि बाई चोवाइज़ है। यह देश हमारे पूर्वजो का है, इस देश में आंधी, तुफान देखे है लेकिन कभी कभी लफन्डर भी देश के बादशाह हो जाते है।

उन्होने मोदी पर हमला करते हुए कहा कि हिन्दुस्तान हमारा परिवार है पर अपने परिवार को क्यो नही अपनाते हो। देश भक्त की ना कोई मजहब होता है और ना कोई धर्म और जाति। आखिर में तमाम लोगो को शुक्रिया अदा किया।

इस प्रोग्राम में एसोसिएशन के तमाम मिम्बरान मो॰ याकूब अध्यक्ष, मो॰ इश्तियाक शैख चेयरमैन, निवेदकः मो॰ कयाम मसूदी, मो॰ असलम (बिल्डर) लियाकत मसूदी, मो॰ रियाजुद्दीन, शकील प्रधान, मौलाना, ज़ाहिद रिज़वी, वसीम खान, ब्लोच, हाजी मुस्तफा, मसूद हाश्मी, आशिक सलाऊद्दीन, गुबख्श सिंह (बिन्टेभाई), वासिफ इकबाल (अननू), मोईन हीरोवाला, उस्मान मिर्जा के अलावा हज़ारो की तादाद में लोग मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT