Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / दो दिनों के अंदर गठबंधन की घोषणा, पिता से रिश्ता कभी खत्म नहीं हो सकता: अखिलेश यादव

दो दिनों के अंदर गठबंधन की घोषणा, पिता से रिश्ता कभी खत्म नहीं हो सकता: अखिलेश यादव

लखनऊ। चुनाव आयोग के फैसले के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) को पूरी तरह अपने नियंत्रण में लेते हुए पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि कांग्रेस से गठबंधन की घोषणा दो दिनों के अंदर लखनऊ से हो जाएगा। मुख्यमंत्री निवास पर पत्रकारों से बात करते हुए यादव ने दिल्ली जाने से संबंधित कार्यक्रम से इनकार करते हुए कहा कि गठबंधन की घोषणा यहीं से होगा।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि ‘नेताजी’ से कुछ मतभेद थे लेकिन अंततः वह मेरे पिता हैं। यह कोई नहीं बदल सकता। यह लड़ाई जरूरी थी लेकिन मैं इसे अपने लिए खुशी की बात नहीं कह सकता। दोनों उम्मीदवारों की सूची 90 प्रतिशत समान है .10 प्रतिशत उम्मीदवारों के संबंध में मतभेद थे। इसे सुलझा लिया जाएगा। शिवपाल सिंह यादव सहित किसी का नाम लिए बिना उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि जो लोग नेताजी को गुमराह कर रहे थे, उनके बारे में वह कुछ नहीं कह सकते।

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के अनुसार अखिलेश यादव ने कहा कि चुनाव प्रचार के लिए बहुत कम समय बचा है। हमें अब लोगों के बीच जाना होगा। अब बड़ी जिम्मेदारी है। अब हमारी सारी ध्यान फिर से सरकार बनाने पर है उन्होंने दूरदराज से आए कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। इस मौके पर मौजूद श्री यादव के समर्थक और मंत्री राजेंद्र चौधरी ने कहा कि जनता के प्यार से अखिलेश यादव फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।

चुनाव आयोग का फैसला आने के बाद कल शाम अखिलेश यादव अपनी पत्नी डिंपल यादव के साथ मुलायम सिंह यादव से आशीर्वाद लेने उनके घर गए थे। मुख्यमंत्री दो दिनों में उम्मीदवारों की सूची भी जारी कर सकते हैं।

उधर, कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के प्रस्तावित गठबंधन पर चुटकी लेते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कहा है कि भ्रष्टाचार के आरोपी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी एक दूसरे के करीब आने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा के प्रदेश महासचिव विजय बहादुर पाठक ने कहा कि चुनाव में जनता कांग्रेस और समाजवादी पार्टी दोनों को अस्वीकार कर देंगे क्योंकि दोनों पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं और जनता भ्रष्टाचार के खिलाफ उठ खड़े हुए हैं।

TOPPOPULARRECENT