Friday , August 18 2017
Home / Crime / धार्मिक अनुष्ठान के नाम पर शोषण के शिकार 12 नाबालिग़ सहित 28 युवाओं को कराया आज़ाद

धार्मिक अनुष्ठान के नाम पर शोषण के शिकार 12 नाबालिग़ सहित 28 युवाओं को कराया आज़ाद

मुंबई: मुंबई पुलिस ने मुंबई के कांदीवली इलाके के एक बंगले में मौजूद 12 नाबालिगों सहित 28 युवाऔं को एक स्वघोषित साधू की क़ैद से आज़ाद कराया है |
ये साधु कथित तौर पर धार्मिक अनुष्ठान के नाम पर इन युवाओं का मानसिक और शारीरिक शोषण करता था |
समता नगर पुलिस थाने के इंस्पेक्टर सुनैना नैट ने बताया कि इन बच्चों में से एक बच्चे द्वारा अपने परिवारजनों को साधु द्वारा किये जा रहे शोषण के बारे में बताये जाने के बाद परिजनों तुरंत इस मामले के बारे में पुलिस को सूचित किया|

नैट  ने बताया कि सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए समता नगर पुलिस की एक टीम ने शुक्रवार शाम को परिसर में छापा मारा और 12 बच्चों सहित 28 युवाओं को छुड़ा लिया इनमें से  ज्यादातर उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं |

उन्होंने कहा कि युवाओं का  धार्मिक अनुष्ठानों के नाम पर शोषण किया गया है | इस सिलसिले में दो लोगों भगवानदास तिवारी और देवेंद्र मनोज दुबे को गिरफ़्तार कर लिया गया है और इस मामले की जाँच की जा रही है |

TOPPOPULARRECENT