Friday , September 22 2017
Home / Bihar/Jharkhand / धोनी के स्विमिंग पूल से लोगों को एतराज, वजीर से शिकायत

धोनी के स्विमिंग पूल से लोगों को एतराज, वजीर से शिकायत

रांची : महेंद्र सिंह धोनी के हरमू इलाके में मौजूद पुश्तैनी घर में बने स्विमिंग पूल को लेकर तनाजा खड़ा हो गया है। पानी की तंगी से जूझ रहे लोगों ने झारखंड के रेवेन्यू मिनिस्टर अमर कुमार बाउरी के जनता दरबार में इसकी शिकायत की है। उनका कहना है कि धोनी के पूल में हर दिन 15 हजार लीटर पानी इस्तेमाल हो रहा है। 
लोगों का कहना है कि उन्हें पीने को पानी नहीं मिल रहा और धोनी के स्विमिंग पूल में पानी भरा रहता है, जबकि वे बहुत कम वक्त के लिए रांची आते हैं। उनके घर में दस से ज्यादा लोग भी नहीं रहते उनका कहना है कि यहां के मोहल्लों की हालत महाराष्ट्र के लातूर जैसी हो गई है। धोनी के घर में मौजूद स्विमिंग पूल के लिए 15 हजार लीटर पानी का इंतजाम हो सकता है, लेकिन पांच हजार आबादी वाले यमुनानगर की परवाह किसी को नहीं है। धोनी के घर से महज एक किलोमीटर की दूरी पर बसे यमुनानगर में न तो बोरवेल से पानी निकल रहा है और न ही टैंकर से वाटर सप्लाई हो रही है। दो साल से इलाके के वार्ड पार्षद से लेकर नगर निगम के अफसरों से लोगों ने मिन्नतें की, लेकिन कुछ नहीं हुआ तो वजीर के पास पहुंचे लोगों ने मोहल्ले में पाइप लाइन बिछाने की गुहार लगाई।

धोनी के करीबियों का कहना है कि इन इल्जाम में सच्चाई नहीं है। उनका तर्क है कि स्विमिंग पूल में हर वक्त पानी नहीं भरा रहता, बल्कि जब कभी धोनी आते हैं, तब स्विमिंग पूल में पानी होता है। इसके लिए किसी का हक या हिस्सा मारकर पानी नहीं लिया जाता।

गुजिश्ता दिनों सूखे से बेहाल महाराष्ट्र से आईपीएल शिफ्ट करने को लेकर पूछे गए सवाल पर धोनी ने लॉन्ग टर्म सॉल्यूशन निकालने की बात की थी। उन्होंने कहा था-”ये सभी सवाल (आईपीएल शिफ्ट करने को लेकर) सुनने में अच्छे लगते हैं लेकिन आपको इसके लिए लॉन्ग टर्म सॉल्यूशन निकालने की जरूरत है।”
 ”सोचना होगा कि जिन इलाकों में सूखा हैं वहां किस तरह पानी भेजा जाए।”  बता दें कि इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने 1 मई के बाद आईपीएल के सारे मैच महाराष्ट्र से शिफ्ट कर दिए हैं।

TOPPOPULARRECENT