Thursday , October 19 2017
Home / India / नए माया कलेंडर की दरयाफ़त से दुनिया के ख़ातमे का नज़रिया ग़लत क़रार

नए माया कलेंडर की दरयाफ़त से दुनिया के ख़ातमे का नज़रिया ग़लत क़रार

गो टे माला के जंगलात में दरयाफ़त होने वाले माया तहज़ीब के क़दीम तरीन कलेंडर के मुताबिक़ 2012 -ए- में दुनिया के ख़ातमे का नज़रिए दरुस्त नहीं है । 800 साल क़बलव‌ एव‌ मसीह का ये क़दीम तरीन कलेंडर टेक्सास यू नैवर सिटी के माहिर -ए-आसारे-ए-क़दीमा ने ग

गो टे माला के जंगलात में दरयाफ़त होने वाले माया तहज़ीब के क़दीम तरीन कलेंडर के मुताबिक़ 2012 -ए- में दुनिया के ख़ातमे का नज़रिए दरुस्त नहीं है । 800 साल क़बलव‌ एव‌ मसीह का ये क़दीम तरीन कलेंडर टेक्सास यू नैवर सिटी के माहिर -ए-आसारे-ए-क़दीमा ने गोइटे माला के इलाक़े Xultun में मौजूद माया तहज़ीब के क़दीम शहर से दरयाफ़त किया है जो मुख़्तलिफ़ स्याह और सुर्ख़ रंगों से तसावीर और पेचीदा चा र्ट्स की शक्ल में देवर ओं पर खोदा गया है ।

पुराने कलेंडरज़ के बरअकस ये नया दरयाफ़त शूदा कलेंडर सन 2012 -ए-से कई हज़ार साल आगे की तारीख़ों पर मुश्तमिल है जबकि इस से क़बल दरयाफ़त होने वाले माया कलेंडर 21 दिसंबर 2012 की तारीख़ पर इख़तताम पज़ीर हो गए थे जिस ने इस नज़रीए को जन्म दिया था कि दुनिया012 -ए-में ख़तन हो जाय गी।

माहिरीन का कहना है कि इस नए कलेंडर की दरयाफ़त से ये बात वाज़िह हो गई है 21 दिसंबर 2012 -ए-को दुनिया के ख़ातमे की तारीख़ क़रार देना सिर्फ एक ग़लती है

TOPPOPULARRECENT