Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / नकली किताबें हुईं जब्त, दो गिरफ्तार

नकली किताबें हुईं जब्त, दो गिरफ्तार

गांधी मैदान के पास उद्दोग भवन के इर्द-गिर्द नामी पब्लिशरों की नकली किताबें बेची जा रही थीं। इसका खुलासा उस वक़्त हुआ, जब पुलिस ने छापेमारी की। वहां से काफी मिक़दार में एस चांद, आरएस अग्रवाल और केसी सिन्हा पब्लिकेशन की हजारों रुपये

गांधी मैदान के पास उद्दोग भवन के इर्द-गिर्द नामी पब्लिशरों की नकली किताबें बेची जा रही थीं। इसका खुलासा उस वक़्त हुआ, जब पुलिस ने छापेमारी की। वहां से काफी मिक़दार में एस चांद, आरएस अग्रवाल और केसी सिन्हा पब्लिकेशन की हजारों रुपये कीमत की नकली किताबें जब्त की गयीं। इस मामले में पुलिस ने दो दुकानदारों राहुल कुमार (दरियापुर गोला रोड) और प्रकाश कुमार (डॉक्टर्स कॉलोनी, कंकड़बाग) को गिरफ्तार कर लिया।

एस चांद पब्लिकेशन के एंटी प्राइवेसी सेल के हेड संजीव कुमार राघव ने पुलिस को जानकारी दी थी कि उनके पब्लिकेशन की नकली पुस्तकें धड़ल्ले से फरोख्त की जा रही हैं। इस जानकारी के बाद गांधी मैदान पुलिस की टीम ने सनअति महकमा के नजदीक तकरीबन आधा दर्जन दुकानों में चेकिंग मुहिम चलाया। इस दौरान काफी किताबों की बारीकी से जांच की गयी। इस तफ़सीश में दो दुकानदारों राहुल और प्रकाश कुमार की दुकान से काफी तादाद में कई नामी-गिरामी पब्लिकेशन की किताबें बरामद की गयीं।

इस धंधे के पीछे एक बड़ा नेटवर्क काम करता है। नामी-गिरामी पब्लिशर की महंगी किताबों की नकली कॉपियों की प्रिंटिंग प्रेस में आशाअत की जाती है। इन किताबों का पन्ना और कवर असल कॉपी से काफी खराब होती है। उस पर छपाई भी खराब होती है। लेकिन असल पब्लिकेशन का लोगो लगा कर किताबों की फरोख्त की जाती है। इन किताबों की कीमत पर दुकानदार काफी डिसकाउंट भी देते हैं, जिसकी वजह इन किताबों की काफी मांग होती है। एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि नकली किताब दुकानदारों ने काफी जानकारी दी है।

TOPPOPULARRECENT