Tuesday , October 17 2017
Home / Hyderabad News / नक़द रक़म की रास्त मुंतक़ली स्कीम की अमल आवरी में कई रुकावटें – क़िस्त 2

नक़द रक़म की रास्त मुंतक़ली स्कीम की अमल आवरी में कई रुकावटें – क़िस्त 2

ज़्यादा तर अवाम की यही शिकायत है कि उन्हें अभी तक आधार कार्ड मौसूल नहीं हुआ । मिसाल के तौर पर ज़िला हैदराबाद और रंगा रेड्डी की जुमला आबादी 93.07 लाख बताई जाती है । जिस में से 85.45 लाख अफ़राद ने अपने नाम दर्ज करवाए । इन में से 74.92 लाख आधार कार

ज़्यादा तर अवाम की यही शिकायत है कि उन्हें अभी तक आधार कार्ड मौसूल नहीं हुआ । मिसाल के तौर पर ज़िला हैदराबाद और रंगा रेड्डी की जुमला आबादी 93.07 लाख बताई जाती है । जिस में से 85.45 लाख अफ़राद ने अपने नाम दर्ज करवाए । इन में से 74.92 लाख आधार कार्ड तय्यार करते हुए उन्हें मुताल्लिक़ा अफ़राद को भेज दिया गया है ।

ज़राए का कहना है कि अब भी इन दोनों अज़ला में 18 लाख अफ़राद को आधार कार्ड्स मिलने बाक़ी हैं लेकिन हक़ीक़त कुछ और है शहर में अक्सर लोग यही शिकायत कर रहे हैं कि उन्हें अभी तक आधार कार्ड हासिल नहीं हुआ । इसे में अगर किसी को आधार कार्ड नहीं मिलता है तो फिर हुकूमत नक़द रक़म की रास्त मुंतक़ली स्कीम को किस तरह कामयाब बना सकती है ।

अगर किसी को आधार कार्ड मौसूल ना हुआ तो वो वेबसाइट uidai.gov.in पर लॉग कीजिए और 14 हिन्दसी शनाख़ती नंबर टाइप करें तब कार्ड के तय्यारी के मौक़िफ़ के बारे में आप को मालूम होगा । बहरहाल ये वाज़ेह है कि नक़द रक़म की रास्त मुंतक़ली स्कीम आधार कार्ड पर दीए गए नंबर और बैंक अकाउंट के बिना मुम्किन नहीं ।

चीफ मिनिस्टर मग़रिबी बंगाल ममता बनर्जी का कहना है कि वो हुकूमत की इस स्कीम से कभी इत्तिफ़ाक़ नहीं करेंगी क्यों कि मुल्क में कई एसे इलाक़े हैं जहां बैंक मौजूद हैं और ना ही डाकखाने । अपोज़ीशन जमातों का इल्ज़ाम है कि इस स्कीम से निज़ाम तक़सीम आम्मा मुतास्सिर होगा ।

और इस के वजूद को ख़तरा लाहक़ होगा हद तो ये है कि लोग जहां पायलपु पराजक्ट चल रहा है रक़म मिलने के बावजूद केरोसीन वगैरह खरीदने से गुरेज़ कर रहे हैं और बाज़ लोग जिन्हें रक़म मौसूल नहीं हुई वो 15 रुपये की बजाय 50 रुपये फ़ी लीटर केरोसीन खरीदने पर मजबूर हैं ।

इस तरह की रियासत में झारखंड भी शामिल है । दूसरी जानिब ये भी कहा जा रहा है कि जिन अज़ला में 80 फ़ीसद आबादी को आधार कार्ड्स वसूल होचुके हैं वहां ये स्कीम रुबा अमल लाई जाएगी अब देखना ये है कि मज़ीद और कौनसी रुकावटें हैं जो नक़द रक़म की रास्त मुंतक़ली स्कीम पर असर अंदाज़ होंगी ।।

TOPPOPULARRECENT