Thursday , September 21 2017
Home / Khaas Khabar / नत्थूराम घोडसे हीरो नहीं था: आर एस एस

नत्थूराम घोडसे हीरो नहीं था: आर एस एस

नागपुर: आर एस एस के नज़रियाती लीडर एमजी वैद्या ने आज कहा कि महात्मा गांधी का क़ातिल नत्थूराम गोडसे हीरो नहीं था। उन्होंने हिंदू महासभा, हिंदू सेना और महाराणा प्रताप बटालियन पर शदीद तन्क़ीद की। जो लोग 66 वीं बरसी की याद में शौर्य दीवस मना रहे हैं, उन्होंने कहा कि वो महात्मा गांधी के क़ातिल को इज़्ज़त देने और इसका एहतेराम करने के मुख़ालिफ़ हैं।

मैं नहीं जानता कि ये कौन तंज़ीमें हैं जो महात्मा गांधी के क़ातिल की ताज़ीम करते हुए उस की याद मना रहे हैं। मैं नत्थू राम गोडसे की इज़्ज़त करने और उसे एज़ाज़ देने के ख़िलाफ़ हूँ, वो एक क़ातिल था। नज़रियात से लड़ाई सिर्फ़ नज़रियात के हद तक ही होना चाहिए। किसी का क़तल किया जाना दुरुस्त नहीं जैसा कि गोडसे ने किया था।

बाज़ लोग समझते हैं कि महात्मा गांधी को क़तल करके उन्होंने हिंदूतवा की हौसला-अफ़ज़ाई की है तो ये ग़लत है। दरहक़ीक़त ये लोग हिनदतवा की तौहीन कर रहे हैं। मैं समझता हूँ कि गांधी जी को क़तल करने वाला शैतान था। महात्मा गांधी हिन्दुस्तान की मुहतरम और मुअज़्ज़िज़ शख़्सियत थे। दाएं बाज़ू की तन्ज़ीमों ने आज नत्थूराम गोडसे की बरसी की याद में एक प्रोग्राम शौर्य दीवस के तौर पर मनाया। हिंदू महा सभा , ये वही तंज़ीम है जिसने गोडसे के लिए मुनादिर बनाने के मंसूबे का ऐलान किया था।

TOPPOPULARRECENT