Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / नरेंद्र मोदी को सिर्फ़ ओहदा हासिल करने की फ़िक्र: सोनिया गांधी

नरेंद्र मोदी को सिर्फ़ ओहदा हासिल करने की फ़िक्र: सोनिया गांधी

गुजरात के राय दहिंदों से तास्सुब और नफ़र‌त के सौदागरों को मुंतख़ब ना करने की अपील

गुजरात के राय दहिंदों से तास्सुब और नफ़र‌त के सौदागरों को मुंतख़ब ना करने की अपील

सदर कांग्रेस सोनिया गांधी ने नरेंद्र मोदी को उनके अपने मुस्तहकम गढ़ गुजरात में ललकारते हुए गुजरात की मिसाली तरक़्क़ी को ढोंग क़रार दिया और राय दहिंदों से अपील की कि एसी ताक़तों को मुंतख़ब ना करें जिन का नज़रिया तास्सुब और सोचने का अंदाज़ नफ़रत पर मबनी है।

उन्होंने मोदी को सिर्फ़ ओहदा हासिल करने की फ़िक्र होने और अवाम की कोई फ़िक्र ना होने का इल्ज़ाम आइद करते हुए कहा कि रियासत में तालीम तर्क करने वालों की शरह पूरे मुल्क में सब से ज़्यादा है। यहां अगर किसी की आमदनी 11 रुपये से ज़्यादा हो तो इस के ख़ानदान को ग़रीब नहीं समझा जाता।

उन्होंने कहा कि चौंका देने वाली बात ये है कि हुकूमत गुजरात एसे अफ़राद को जिन की आमदनी 11 रुपये से ज़्यादा है, ग़रीब नहीं समझती। आप मुझे बताएं कि ये जन्नत है या कोई और जगह। उन्होंने कहा कि उनको सिर्फ़ ओहदा हासिल करने की फ़िक्र है। ग़रीबों से उनका कोई लेना देना नहीं है।

सोनिया गांधी ने कहा कि जारीया इंतेख़ाबात 2 नज़रियात के दरमियान इंतेख़ाब का मौक़ा हैं। उन्होंने राय दहिंदों से अपील की कि जो ताक़तें बुनियाद परस्ती के नज़रियात जैसे नफ़रत, कोताह ज़हनी और तास्सुब को परवान चढ़ाती हैं, वोट ना दें। उन्होंने कहा कि बी जे पी का नज़रिया एसा ही है।

वो एक तंज़ीम की धन पर रक़्स करती है जो गंगा जमुनी तहज़ीब में यक़ीन नहीं रखती और नफ़रत, तंगनज़री और मुतअस्सिब अंदाज़ फ़िक्र पूरे मुआशरे में पैदा करना चाहती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की जानिब से इस नज़रिये की सख़्त मुख़ालिफ़त की जा रही है क्योंकि इसका नज़रिया पूरी क़ौम को मुत्तहिद करना, मुख़्तलिफ़ अक़ाइद-ओ-मज़ाहिब में हम आहंगी पैदा करना है।

बी जे पी का नज़रिया ज़ालिमाना नज़रिया है जो मुल्क के लिए नुक़्सानदेह है। एसा नज़रिया मुल्क की रिवायात और उसूलों को तोड़ देता है जो सदीयों से क़ायम हैं। ये एक ऐसा नज़रिया है जो इत्तेहाद के नाम पर ज़ुल्म मुसल्लत करता है। सोनिया गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी मज़बूत जम्हूरियत में यक़ीन रखती है।

हर शख़्स को समाज में मुसावी मुक़ाम देती है। उन्होंने एतेमाद ज़ाहिर किया कि अवाम इंतेशार पसंद ताक़तों से गुमराह नहीं होंगे और उन्हें शिकस्त देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस समाज के तमाम तबकों के लिए जद्द-ओ-जहद कररही है। और तैक़ून दिया कि 2014 के इंतेखाबी मंशूर में उनकी फ़लाह-ओ-बहबूद के लिए कई स्कीम्स पेश की गई हैं और प्रोग्रामों का एलान किया गया है जिन पर बरसर‍-ए‍‍-इक़्तेदार आने की सूरत में अमल आवरी की जाएगी|

TOPPOPULARRECENT