Wednesday , September 20 2017
Home / Delhi / Mumbai / नरेंद्र मोदी पर शिवाजी के सिद्धांत का उल्लंघन का आरोप

नरेंद्र मोदी पर शिवाजी के सिद्धांत का उल्लंघन का आरोप

मुंबई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से पाकिस्तानी समकक्ष नवाज शरीफ को दोनों देशों के बीच तनाव के बावजूद जन्मदिन की बधाई देने पर आपत्ति करते हुए शिवसेना ने आज कहा कि छत्रपति शिवाजी का यह कथन था कि आतंकवादी राजा (यूधा) राष्ट्र के दुश्मनों को कभी बधाई नहीं करता।

सहयोगी दल ने प्रधानमंत्री सभा में भाजपा समर्थकों की ओर से मोदी मोदी का जप करने पर नाराजगी जताई जिसमें शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी शामिल थे। शिवसेना के प्रवक्ता ‘सामना’ के संपादकीय में यह बताया गया है कि शिवाजी महाराज का यह धारणा थी कि स्वराज (खुद शासक) के दुश्मन भी राष्ट्र के दुश्मन होते हैं और शिवाजी ने कभी भी औरंगजेब, अफजल खान को बधाई पेश नहीं की।

शिवसेना ने कहा है कि भाजपा में नरेंद्र मोदी के महत्व से इनकार नहीं किया जा सकता और मोदी देना क्योंकि पार्टी आज सत्ता मे है। लेकिन मुंबई के जलसे में शिव‌सेनक और शिवाजी के प्रशंसक छत्रपति के पक्ष में प्रशंसा नारे लगा रहे थे। दूसरी ओर भाजपा वर्कर्स मोदी। मोदी का भजन कर रहे थे। क्या कोई अपना तुलनात्मक शिवाजी से कर सकता है। कदापि नहीं। शायद मोदी भी नहीं? गौरतलब है कि रविवार को आयोजित जनसभा में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के भाषण के दौरान लगातार रुकावट पैदा हो रही थी जब भाजपा समर्थकों ने कई बार मोदी। मोदी का नारा लगाया।

TOPPOPULARRECENT