Saturday , September 23 2017
Home / India / नशा नहीं दवा है शराब!

नशा नहीं दवा है शराब!

नई दिल्ली: अपने मुतनाज़ा बयानों की वजह से सुर्खियां बटोरने वाले पंजाब के हेल्थ मिनिस्टर सुरजीत कुमार जियानी ने एक बार फिर मुतनाज़ा बयान दे डाला है। इस बार सुरजीत ने शराब को लेकर बेतुका बयान दिया है। चौंकाने वाली बात यह है कि मंत्री जी एक नशा मिजात मरकज़ का इफ्तेताह करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान वज़ीर ने शराब को नशा मानने से ही इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मैं शराब को नशा नहीं मानता।

हालांकि, मंत्री जी ने अपने इस बयान पर दलील देते हुए कहा कि आप इसे नशा नहीं कह सकते, क्योंकि फैक्ट्रियों को इसके लिए मंजूरी मिलती है। बकायदा टेंडर भी निकाला जाता है। बताइए तो फिर आप कैसे कहेंगे कि शराब नशा है। मंत्री जी यहीं नहीं रूके अपने बयान को साबित करने के लिए उन्होंने फौज को भी लपेट लिया।

उन्होंने कहा, “आर्मी में शराब और पार्टियों में शराब वगैरह के इस्तेमाल को लेकर सरकारी लाइसेंस मिलता है। हम ठेकों की नीलामी करते हैं तो हम कैसे कहेंगे कि शराब नशा है। इससे पहले सुरजीत कुमार ने रोड पर होने वाले एक्सीडेंट के लिए सडक पर चलने वाले लोगों को जिम्मेदार बता दिया था।

मंत्री जी के मुताबित, कोई भी ड्राइवर किसी को मारना नहीं चाहता, लोगों की गलती है कि वो अपनी हिफाज़त का ध्यान नहीं रखते है।

TOPPOPULARRECENT