Tuesday , October 24 2017
Home / Uttar Pradesh / नहीं सुधरे ऑटोवाले

नहीं सुधरे ऑटोवाले

रांची 6 जून : दारुल हुकूमत की लोगों को ट्रैफिक की मसला से निजात मिले, इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने काफी मशक्कत की है। इनके कोशिश से काफी हद तक लोगों को ट्रैफिक की मसला से निजात भी मिली है। सड़क किनारे खोमचेवाले और फुटपाथ दुकानदारों ने भ

रांची 6 जून : दारुल हुकूमत की लोगों को ट्रैफिक की मसला से निजात मिले, इसके लिए ट्रैफिक पुलिस ने काफी मशक्कत की है। इनके कोशिश से काफी हद तक लोगों को ट्रैफिक की मसला से निजात भी मिली है। सड़क किनारे खोमचेवाले और फुटपाथ दुकानदारों ने भी ट्रैफिक नियमों पालन करना शुरू कर दिया है।

वहीं ट्रैफिक महकमा के तमाम कोशिश के बावजूद शहर के ऑटोवाले नहीं सुधर रहे हैं। बीच रास्ते में ब्रेक लगाना, बीच सड़क पर ही पैसेंजर को ऑटो में बैठाना और एक सड़क पर कई कतार में ऑटो को चलाना इनकी आदत सी बन गयी है। कांटाटोली हो या लालपुर या फिर रातू रोड चौराहा, बीच चौराहे पर ही ऑटो ड्राईवर अपनी गाड़ियां खड़ी कर रहे हैं। इन ऑटोवालों पर नकेल कसने के लिए कभी भी कड़े कदम नहीं उठाये गये। नतीजा रोज आम लोग इनकी हरकतों से परेशान हो रहे हैं।

हर दिन बस स्टैंड के पास वाक़ेय पटेल चौक को ऑटोवाले जाम कर देते हैं. यहां पर लोहरदगा से आनेवाले मुसाफिर ट्रेन से उतरते हैं।ऑटोवालों में उन्हें बैठाने के लिए मारामारी होती है।

TOPPOPULARRECENT