Tuesday , October 17 2017
Home / Bihar News / नाबालिग से इशमतरेज़ी की कोशिश में 10 साल की सजा

नाबालिग से इशमतरेज़ी की कोशिश में 10 साल की सजा

मुजफ्फरपुर : नाबालिग के साथ इशमतरेज़ी की कोशिश के मामले में खुसूसी पास्को अदालत के जस्टिस समयनाथ श्रीवास्तव ने करजा थाना इलाके के रसूलपुर के रहने वाले रहेश कुमार को मुजरिम करार देते हुये 10 साल की जेल और 25 हजार जुर्माना की सजा सुनायी है .

गौरतलब है कि, करजा थाना इलाके के एक गांव में सरस्वती पूजा देखकर लौट रही आठ साला बच्ची को चाकू के बल पर लीची गाछी में ले जाकर इशमतरेज़ी की कोशिश किया गया था. इसमें बच्ची को जख्मी भी कर दिया गया था .

बच्ची की चीख पर मुकामी लोगों ने मुलजिम को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था. बच्ची के वालिद के बयान पर करजा थाना में कांड नंबर 28/2014 दर्ज किया गया. पुलिस को दिए बयान में वालिद ने बताया कि मेरी बेटी गांव से सरस्वती पूजा देखकर लौट रही थी कि, जब गांव के लीची गाछी के पास पहुंची तो रहेश कुमार व दीगर ने चाकू की ताक़त पर अगवा कर लिया. इसके बाद इशमतरेज़ी की कोशिश किया. साथ ही चाकू से जख्मी भी कर दिया. चिल्लाने पर आसपास के लोग आये और मुलजिम को पकड़ा तब जाकर मेरी बेटी की जान बच सकी.

 

TOPPOPULARRECENT