Sunday , September 24 2017
Home / Bihar/Jharkhand / देहेज के लिए बीवी को इलेक्ट्रीक शॉट देता था जालिम शौहर

देहेज के लिए बीवी को इलेक्ट्रीक शॉट देता था जालिम शौहर

भौंरा : भौंरा ओपी क्षेत्र के गांधी नगर निवासी चंदन निषाद की पत्नी प्रीति देवी अब पुलिस की शरण में है. अपनी एक वर्षीया बच्ची को गोद में लेकर थाना पहुंची इस महिला ने जब पति के जुल्मों की दास्तां सुनानी शुरू की तो वहां मौजूद लोग अवाक रह गये. ससुर के मरने के बाद उसका पति चंदन शराब पीकर मारपीट करता और अक्सर करंट सटा देता था. कभी चाकू दिखा कर जान मारने की धमकी देता.

चार दिन पूर्व प्रीति का पति चंदन उसे और अपनी नन्हीं बेटी को घर के अंदर बंद कर बाहर से दरवाजे पर ताला लगा कर फरार हो गया था. वह इस इंतजार में थी कि पति अब आयेगा-आज आयेगा. शुक्रवार को इंतजार की इंतहा हो गयी. प्रीति ने दरवाजे की फांक से चिल्लाकर लोगों को बुलाया. आवाज सुनकर वहां पहुंचे लोगों से उसने कैद करने की बात बतायी. उसने इसकी सूचना झरिया निवासी उसके ममेरे भाई संतोष मल्लाह को देने का आग्रह किया.

जानकारी मिलने पर बहन की ससुराल पहुंचे संतोष ने मामले की जानकारी भौंरा ओपी पुलिस को दी. साथ ही स्थानीय लोगों की मदद से ताला तोड़कर अपनी बहन प्रीति व उसकी बच्ची को आजाद कराया. वहां से पीड़िता भौंरा ओपी पहुंची. उसने अब तक की प्रताड़ना की कहानी भौंरा थानेदार अक्षय कुमार को सुनायी.

प्रीति चाईबासा के कोकोटो गांव निवासी मानिक निषाद की पुत्री है. वर्ष 2012 में गांधी नगर, भौंरा निवासी बीसीसीएल कर्मी स्व. सीताराम मल्लाह के पुत्र चंदन निषाद से उसकी शादी हुई थी. चंदन शादी के बाद से ही मायके से दो लाख रुपये दहेज लाने का दबाव बनाता था. नहीं लाने पर तलाक देने की धमकी देता. प्रीति के पिता चाईबासा के एक होटल में काम करते हैं. वह दो लाख रुपये देने में समक्ष नहीं थे. इधर पैसे के लालच में बेरोजगार चंदन की हैवानियत बढ़ती गयी. रुपये नहीं लाने पर अक्सर प्रीति की पिटाई करता और घर में बंधक बना लेता.

उसका अत्याचार यहीं कम नहीं हुआ. अपनी बात मनवाने के लिए प्रीति के शरीर में करंट दौड़ा देता. प्रीति कहती है, ‘मेरा पति मुझे तड़पा कर अपनी बात मनवाने पर अड़ा था. उसकी मंशा थी कि बेटी और मैं घर में भूखे-प्यासे मर जायें. चार दिनों से भूखे-प्यासे अपनी बच्ची के साथ घर में पड़ी थी.’ वह कहती है, ‘दरवाजे की फांक से लोगों को आवाज देती, लेकिन कोई नहीं सुनता था. आज इस कैद से मुक्त हो पायी. घर में खाने का सामान नहीं था. वह सारा गहना पहले ही बेचकर शराब पी चुका है.’

भौंरा ओपी पुलिस ने आरोपी चंदन निषाद को आज रात गिरफ्तार कर लिया. शिकायत मिलने के बाद उसकी तलाश जारी थी. चंदन ने बताया कि अभी वह बेरोजगार है. वह पत्नी व बच्ची को घर में छोड़कर नौकरी की तलाश में निकला था. प्रीति उस पर झूठा आरोप लगा रही है. इधर, प्रीति ने पति के विरुद्ध पुलिस में लिखित शिकायत की है. अभी मामला दर्ज नहीं हुआ है. अक्षय कुमार, ओपी प्रभारी ने कहा, मामला मेरे संज्ञान में आया है. शिकायत मिली है. जांच के बाद कार्रवाई की जायेगी.

TOPPOPULARRECENT