Wednesday , October 18 2017
Home / Bihar News / नितीश कुमार की हलफ़ बरदारी के दिन ही सड़क हादसे को दिया गया फिर्क़ावाराना रंग

नितीश कुमार की हलफ़ बरदारी के दिन ही सड़क हादसे को दिया गया फिर्क़ावाराना रंग

bihar-209
जनता दल के रहनुमा नितीश कुमार ने आज बिहार में तीसरी मर्तबा बिहार के वज़ीर आला के तौर पर हलफ़ लिया और इसी दिन ही रियासत में हुए एक सड़क हादसे ने फ़िरकावाराना रंग ले लिया और इस दौरान हुई झडपों में चार लोग मारे गये हैं जिसमें एक शहरी और एक इंस्पेक्टर भी शामिल है जिससे रियासत में कशीदगी फ़ैल गयी है
ये वाक़ेआ बिहार में वैशाली जिले की लाल गंज म्युनिसिपलटी में हुआ |

जराए के मुताबिक़ बुध के रोज़ मुहम्मद रिज़वान गाड़ी चला रहा था जिस पर से उसने कंट्रोल खोने के बाद 60 साला ताजिर राजेन्द्र चौधरी और उनकी नाती सपना को मार डाला |

पुलिस ने रिज़वान को उसी रोज़ गिरफ़्तार कर हालात को काबू में कर लिया था| लेकिन कशीदगी जुमेरात के रोज़ सुबह को बढ़ी जब लोगों ने सुना की पुलिस ने रिज़वान को छोड़ दिया है, लगभग 1000 मक़ामी लोगों की भीड़ रिज़वान के घर के आस पास इकठ्ठा गयी और इलाक़े में झगड़ा शुरू कर दिया |

प्रकाश ने बताया,नाराज़ लोगों की भीड़ ने कम से कम १० घरों को जला दिया | दोनों और से पथराव और फायरिंग होने से सूरतेहाल और ज़्यादा खराब हो गयी | ये सिलसिला सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक चला |
भीड़ को घरों और गाड़ियों में आग लगाते देख पुलिस को तैनात कर दिया गया |नाराज़ भीड़ ने एक सब इंस्पेक्टर को भी पीट पीट कर मार डाला |

हुकूमत ने सब इंस्पेक्टर के घर वालों को 10 लाख रूपये और दीगर मुतासिरीन को 4 लाख रूपये देने का ऐलान किया है |

मक़ामी लोगो ने इन्डियन एक्सप्रेस को बताया कि, कुछ लोग सियासी दुश्मनी और हालिया इन्तेखाबात की वजह से वाक़ेआ को फ़िरकावाराना रंग देने की कोशिश कर रहे हैं| नितीश कुमार ने आज कई क़ौमी रहनुमाओं के साथ एक बड़े जलसे में हलफ़ लिया ,जो लालगंज से ज़्यादा दूर नहीं था |

TOPPOPULARRECENT