Wednesday , August 23 2017
Home / Bihar News / नीतीश के हलफबरदारी तकरीब में आने पर मोदी मुखालिफत लीडर ने मंजूरी जताई

नीतीश के हलफबरदारी तकरीब में आने पर मोदी मुखालिफत लीडर ने मंजूरी जताई

पटना : बिहार के वजीरे आला के तौर में नीतीश कुमार एक बार फिर हल्फबरदारी लेने जा रहे हैं। आइंदा जुमा को पटना के गांधी मैदान में हलफबरदारी तकरीब का खूबसूरत मुनक्कीद किया जा रहा है। तकरीब में शामिल होने के लिए नीतीश ने खुद पीर को फोन करके उद्धव ठाकरे को दावत दिया। उनके इस दावत को उद्धव ने कुबूल कर लिया है। हालांकि, वह हलफबरदारी तकरीब में शामिल नहीं हो पाएंगे। उद्धव ने इसकी वजह नहीं बताई। उन्होंने कहा कि हलफबरदारी तकरीब में शिवसेना के नुमायंदगी के तौर में महाराष्ट्र के सनअत वज़ीर सुभाष देसाई और महौलियात वज़ीर रामदास कदम में से कोई एक लीडर मौजूद रहेंगे। बता दें कि मरकज़ और महाराष्ट्र में शिवसेना भाजपा के साथ हुकूमत में है, लेकिन जब बिहार में नीतीश की कियादत में एसेम्बली इंतिख़ाब में महागठबंधन को भारी जीत मिली, तो इस जीत पर उद्धव ने नीतीश को फोन करके उनका इस्तकबाल किया था। उद्धव ने कहा था कि वह नीतीश से पटना या मुंबई में मुलाकात करेंगे। ज़राये के मुताबिक, दिसंबर महीने में नीतीश मुंबई आने वाले हैं और उस वक्त वह उद्धव से मुलाकात कर सकते हैं।

इसके अलावा, नीतीश के हलफबरदारी तकरीब में नेशनल कांफ्रेंस के सदर और जम्मू-कश्मीर के साबिक़ वजीरे आला फारूक अब्दुल्ला और मगरीबी बंगाल की वजीरे आला ममता बनर्जी भी शामिल होंगी। नीतीश के हलफबरदारी तकरीब में आने पर मोदी मुखालिफत लीडर मंजूरी जताई है,

हलफबरदारी तकरीब में करीब छह रियासतों के वजीरे आला मौजूद रहेंगे। यूपी, बंगाल, दिल्ली, असम, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक के वजीरे आला को दावत भेजे गये हैं। नीतीश कुमार ने खुद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और यूपी के सीएम अखिलेश यादव को आने की दरख्वास्त किया है। क़ौमी लीडरों में कांग्रेस सदर सोनिया गांधी, राहुल गांधी को दावत भेजा गया है। लालू प्रसाद के खास मेहमानों में सपा सरबराह और समधी मुलायम सिंह यादव और उनके भाई शिवपाल सिंह यादव के नाम हैं। यूपी के एमपी और मुलायम के पोते व लालू प्रसाद के दामाद तेजप्रताप यादव भी तकरीब में मौजूद रहेंगे। वह छठपूजा को लेकर पहले ही लालू प्रसाद के यहां आये हुए हैं। इनके अलावा ओड़िशा के सीएम नवीन पटनायक, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू, असम के सीएम तरुण गोगोई को भी दावत भेजा गया है।

ममता तकरीब में जाने के लिए तैयार हो गयी हैं। दिल्ली के वजीरे आला अरविंद केजरीवाल भी नीतीश कुमार के हलफबरदारी तकरीब में शामिल होंगे। फारुक अब्दुल्ला और उनके बेटे व पार्टी के वर्किंग कमेटी के सदर उमर अब्दुल्ला भी दावत कुबूल कर लिया है।

इधर हलबरदारी तकरीब की तैयारी का जायजा लेने के लिए पीर को चीफ़ सेक्रेटरी अंजनी कुमार सिंह और सीनियर अफसर का दल गांधी मैदान पहुंचे। मेन मंच और वीआइपी मेहमानों के बैठने की जगह और आम लोगों के लिए जगहों का अफसरों ने जायजा लिया। मेहमानों के ठहरने के लिए मौर्या होटल में 15 कमरे बूक कराये गये हैं। राजकीय गेस्ट हाउस को भी तैयार किया गया है।

TOPPOPULARRECENT