Monday , October 23 2017
Home / Bihar News / नीतीश-लालू की सियासी दोस्ती का असर साफ दिख रहा है: मोदी

नीतीश-लालू की सियासी दोस्ती का असर साफ दिख रहा है: मोदी

साबिक़ नायब वजीरे आला सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार और लालू प्रसाद की सियासी दोस्ती का असर साफ-साफ दिखने लगा है। नक्सली तशद्दुद, यरगमाल, कत्ल और डकैती की बढ़ी वारदातों से जंगल राज-दो का एहसास अब आम लोगों को भी होने लगा है।

साबिक़ नायब वजीरे आला सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार और लालू प्रसाद की सियासी दोस्ती का असर साफ-साफ दिखने लगा है। नक्सली तशद्दुद, यरगमाल, कत्ल और डकैती की बढ़ी वारदातों से जंगल राज-दो का एहसास अब आम लोगों को भी होने लगा है।

बिहार में कुछ सालों के दौरान नक्सली तशद्दुद की पहली ऐसी वारदात है जब एक साथ 32 ट्रकों को आग के हवाले किया गया है। बेगूसराय के ठेकदार की दिनदहाड़े यरगमाल कर कत्ल कर दी गयी है, वहीं अंधराठाढ़ी में डकैतों ने लूटपाट के दौरान एक कारोबारी की कत्ल कर दी है। हुकूमत के मुखिया को जहां मजर्र-इत्तिहाद की सियासत से फुरसत नहीं है, वहीं इंतेजामिया पंगु हो गया है। उन्होंने कहा कि नक्सली खुलेआम हुकूमत को चैलेंज दे रहे हैं। आम लोग दहशत में है।

नक्सलियों ने अवामी अदालत लगा कर गया के एसएसपी समेत कोबरा बटालियन के कई अफसरों की कत्ल का फरमान जारी किया है। चार दिन पहले 21 मई को नवगछिया जीरो माइल से यरगमाल बेगूसराय के बीपीसीएल के ठेकेदार प्रकाश कोले की यरगमाल करने वालों ने कत्ल कर उनकी लाश को कोसी में बहा दिया। गया के डॉक्टर के यरगमाल के बाद यह दूसरी ऐसी वारदात है, जिसने बिहार के कारोबारियों के मन में दहशत पैदा कर दी है। दो दिन पहले मधुबनी के अंधराठाढ़ी थाने से महज दो सौ गज की दूरी पर वाकेय किराना कारोबारी बेचन गुप्ता के घर पर डकैतों ने धावा बोल कर न केवल उनकी लाखों की जायदाद लूट ली, बल्कि रॉड और डंडे से पिटाई कर उनकी कत्ल भी कर दी। इस वारदात के मुखालिफत में इतवार को पूरे दिन अंधरा बाजार बंद रहा। सड़क जाम कर लोगों ने अपने गुस्सा का इजहार किया।

TOPPOPULARRECENT