Wednesday , September 20 2017
Home / International / नीस हमले की जिम्मेदारी ‘ISIS’ ने स्वीकार कर ली

नीस हमले की जिम्मेदारी ‘ISIS’ ने स्वीकार कर ली

नीस: चरमपंथी संगठन ‘इस्लामिक स्टेट’ ने दक्षिण पूर्व फ्रांसीसी शहर नीस में हुए आतंकवादी हमले की जिम्मेदारी स्वीकार करते हुए हमलावर को अपना ‘सिपाही’ करार दिया है। चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट की ओर से इस घटना के बारे में पहली बार सामने आने वाले दावे में कहा गया है कि यह हमला इसी समूह से जुड़े एक हमलावर ने किया। फ्रेंच पर्यटक शहर नीस में राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर जारी जश्न के दौरान सार्वजनिक सभा को लहवाइज अबुलहलाल नामक ट्यूनीशिया मूल के व्यक्ति द्वारा ट्रक के माध्यम से लक्षित इस घटना के परिणामस्वरूप 84 लोग मारे गए और दो सौ से अधिक घायल हो गए थे।

चरमपंथी समूह ‘इस्लामिक स्टेट से जुड़े एक समाचार एजेंसी से सामाजिक मीडिया के माध्यम से सामने आने वाले दावों में हालांकि इस हमलावर का नाम का खुलासा नहीं किया गया है। फ्रांस के अधिकारियों के अनुसार गुरुवार की रात जनता का एक बड़ा सभा नीस शहर में उत्सव के मौके पर आतिशबाजी का प्रदर्शन देखने में व्यस्त था, जब 31 वर्षीय लहवाइज अबुलहलाल एक ट्रक के माध्यम से दर्जनों लोगों को रौंद दिया। फ्रांस के अधिकारियों का भी कहना है कि लहवाइज अबुलहलाल ही ट्रक ड्राइवर था। उधर चरमपंथी समूह का दावा है कि हमलावर को इस्लामिक स्टेट की ओर से टेलीफोन पर लगातार यह निर्देश दिए जा रहे थे कि वह इराक और सीरिया में ‘इस्लामिक स्टेट’ से जूझ रहे देशों के नागरिकों को निशाना बनाए। समाचार एजेंसी डी पी ए के अनुसार लहवाइज अबूलहलाल और इस्लामिक स्टेट के बीच कोई स्पष्ट संबंध अभी भी स्पष्ट नहीं हो सका है और यह कहना भी वर्तमान में संभव नहीं है कि क्या वास्तव में इस्लामिक स्टेट ही निर्देश पर उसने यह हमला किया या वह ‘ अकेला भेड़िया ‘था।

इस हमले के बाद फ्रांस के अधिकारियों ने कई लोगों को हिरासत में ले लिया है और अब तक इस संबंध में केवल लहवाइज अबूलहलाल से अलग रहने वाली उनकी पत्नी हिरासत में लिए जाने की खबरें हैं। फ्रेंच कार्यालय अभियोजन की ओर से केवल यह बताया गया है कि इस हमले के बाद से अब तक पांच लोगों को नियमित रूप से हिरासत में लिया गया है। ‘इस्लामिक स्टेट की ओर से इस हमले की जिम्मेदारी एक ऐसे मौके पर स्वीकार किया गया है, जब फ्रांस के सुरक्षा एजेंसियों के प्रमुखों की एक बैठक के बाद नीस शहर के तटीय क्षेत्र आंशिक रूप से खोल दिया गया है। इस घटना के बाद फ्रांस में तीन दिन का राष्ट्रीय शोक मनाने के अलावा वहाँ पेरिस हमले के बाद से लागू आपातकाल को भी तीन महीने के लिए बढ़ा दी गई है।

TOPPOPULARRECENT