Tuesday , October 24 2017
Home / Delhi News / नोटबंदी: फर्जी खातों से करोड़ों का लेनदेन, कोटक महिंद्रा बैंक का मैनेजर गिरफ्तार

नोटबंदी: फर्जी खातों से करोड़ों का लेनदेन, कोटक महिंद्रा बैंक का मैनेजर गिरफ्तार

नई दिल्ली। हवाला कारोबारियों के साथ सांठगांठ के आरोप में प्रवर्तन निदेशालय (इडी) ने दिल्ली के कस्तूबा गांधी मार्ग (केजी मार्ग) स्थित कोटक महिंद्रा बैंक के मैनेजर को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि नोटबंदी के बाद से बैंक में कई फर्जी बैंक अकाउंट्स से करोड़ों का लेन-देन हुआ।

प्रवर्तन निदेशालय ने नोटबंदी के बाद नौ कथित फर्जी बैंक खातों में 34 करोड रुपये जमा किए जाने के संबंधी आपराधिक मुकदमे के तहत कोटक बैंक के एक मैनेजर को गिरफ्तार किया है। एजेंसी ने इस संबंध में दर्ज धन शोधन के मुकदमे की जांच के तहत यह गिरफ्तारी की है। अधिकारियों ने कहा कि एजेंसी ने कोटक बैंक की कस्तूबा गांधी मार्ग स्थित शाखा के प्रबंधक को कल देर रात पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैनेजर को धन शोधन निरोधक कानून के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया है और हिरासत में लेने के लिए उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा।’ प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा द्वारा इस संबंध में दर्ज प्राथमिकी पर स्वत: संज्ञान लेते हुए धन शोधन कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।

पुलिस ने उक्त बैंक के नया बाजार शाखा में कथित रुप से नौ फर्जी बैंक खातों में 34 करोड रुपये जमा कराने के आरोप में पिछले सप्ताह दो लोगों को गिरफ्तार किया था। बैंक के एक प्रवक्ता ने तब बयान जारी कर कहा था कि ‘‘वह पुष्टि करता है कि उसके पास संबंधित प्राधिकार को लगातार जरुरी रिपोर्ट भेजने वाली प्रणाली मौजूद है, और उसमें यह खाते भी शामिल हैं।’

TOPPOPULARRECENT