Friday , August 18 2017
Home / India / नोटबंदी से देश में पैदा हुए हालात देख मोदी के मंत्रियों की भी फूली सांसे

नोटबंदी से देश में पैदा हुए हालात देख मोदी के मंत्रियों की भी फूली सांसे

नई दिल्ली: बीजेपी सरकार द्वारा देश में की गई नोटबंदी का जहाँ विपक्षी राजनीतिक और देश के जनता विरोध कर रही थी। अब बीजेपी के नेता भी नोटबंदी के अच्छे परिणाम सामने न आने से परेशान हैं। नाम सार्वजानिक न करने की शर्त पर कुछ बीजेपी नेताओं ने नोटबंदी के मुद्दे पर बातचीत की और कहा कि वे लोग भी नोटबंदी के एक महीने बाद भी हालात में सुधार न होने के कारण काफी चिंता में हैं। उन्होंने स्वीकार की नोटबंदी के कुछ दिन तक तो यह एक उत्साहिक फैसला लगता था लेकिन अब इसे लेकर लोगों में काफी नाराजगी है। बैंक और एटीएम के बाहर लगी लंबी लाइनों में कोई कमी नहीं हो रही, लोगों को नए नोट नहीं मिल रहे, मौतें हो रही हैं जोकि चिंताजनक है। देश की इकॉनमी लगातार नीचे जा रही है। इस बात को लेकर लोग काफी गुस्से में हैं।
जनसत्ता की खबर के मुताबिक बीजेपी के अनुसार देश के अलग-अलग राज्यों के पार्टी नेताओं ने नोटबंदी के मुद्दे को लेकर बैठक कर अपनी चिंताएं सामने रखी हैं। अपना नाम ना छापे जाने की शर्त पर बीजेपी के 5 सांसदों ने मीडिया के सामने नोटबंदी के उल्टे परिणाम सामने आने वाली बात को स्वीकारा है। नोटबंदी से उपेक्षित परिणाम ना मिल पाने के कारण अब बीजेपी की चिंताए उभर कर सामने आने लगी है। पार्टी अब इस बात को कुबूल करने में सामने आने लगी है कि बड़े तबके में बैचेनी साफ दिखाई दे रही है।

सांसदों ने ये माना है कि मजदूरों, सब्‍जी बेचने वालों, छोटे दुकानदारों और छोटे कारोबारियों को पैसे न होने के कारण चिंताए काफी बढ़ रही है और इसके साथ काफी लोगों ने अपनी नौकरियों से हाथ धोएं हैं। नोटबंदी के बाद देश को कैशलेस बनाने की जुगत से भी इस परेशानी का कोई समाधान नहीं निकल पा रहा है। एक बीजेपी सांसद का कहना है की 2017 देश चुनाव आने वाले हैं और मोदीजी का ताजा बयान है कि नोटबंदी से डिजीटल इकॉनॉमी का रास्‍ता खुलेगा, यह चुनाव में नहीं चल सकता। आज भी कई इलाकों में बिजली और फोन नहीं है ऐसे में हम छोटे दुकानदारों और गरीब आदमी को डिजिटल होने को कैसे कह सकते हैं। गौर करने वाली बात ये है कि देश के गावों और पिछड़े इलाकों में तो क्या हाल होगा जब शहर में ही पैसों को पूर्ति करने में इतनी दिक्कत होगी

 

TOPPOPULARRECENT