Saturday , August 19 2017
Home / Khaas Khabar / नोटबंदी: 2000 रूपये के छुट्टे नहीं मिलने पर मजदूर ने खाया जहर

नोटबंदी: 2000 रूपये के छुट्टे नहीं मिलने पर मजदूर ने खाया जहर

आंध्रप्रदेश: नोटबंदी के फैसले के बाद देश में 2000 रुपए के नए नोट आने से लोगों के लिए परेशानी की सबब बन रहे हैं. जब भी कोई 2000 का नोट लेकर मार्केट में जाता तो 2000 के नोट का खुला कोई नहीं दे पाता है. मामला आन्ध्र प्रदेश की है जहां एक मजदूर 2000 रूपये के नोट से छुट्टे की वजह से सामान खरीद नहीं पाया ,जिससे तंग आकर उनहोंने आत्म हत्या करने की कोशिश की.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

नेशनल दस्तक के अनुसार, मजदूर मुर्तजा वली ने 2000 रुपये के नोट का छुट्टा न मिलने के चलते अपने घर में जहर खा लिया. जानकारी के मुताबिक मुर्तजा कई दिनों से नोट का छुट्टा न मिल पाने से वह जरूरी सामान नहीं खरीद पा रहा था.
घटना के बाद परिवार ने बताया कि, मालिक ने मुर्तजा को 2000 रुपये दिए और वह इसे लेकर दुकान पर गया, लेकिन उसे छुट्टा नहीं मिल पाया और वो घर के लिए कोई सामान खरीद नहीं पाया. जिससे घर में बच्चे को भूखा देखकर मजदूर ने जहर खा लिया. मुर्तजा की पत्नी और अन्य परिवार के सदस्य उन्हें शहर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए. इसके बाद उन्हें कुरनूल के सरकारी अस्पताल ले जाया गया. नोटबंदी से जुड़ा यह शहर का दूसरा मामला है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को भारतीय स्टेट बैंक की शाखा से पैसे निकालने का इंतजार कर रहे 62 वर्षीय सेवानिवृत्त सरकारी कर्मचारी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया वह दो घंटे से नकदी लेने के इंतजार में था. नोटबन्दी से आये दिन लगातार घटनाएँ बढती ही जा रही है.

TOPPOPULARRECENT