Tuesday , September 26 2017
Home / Delhi News / नौवीं रोज़ भी हड़ताल जारी

नौवीं रोज़ भी हड़ताल जारी

नई दिल्ली: दिल्ली हुकूमत ने एमसीडी के वर्करों की तनख़्वाहें देने के लिए म्यूनसिंपल कारपोरेशन को बतौर क़र्ज़ 551 करोड़ देने का ऐलान कर दिया है मगर उसके बावजूद एमसीडी ने अपनी हड़ताल ख़त्म नहीं की है। गीता कॉलोनी में हुकूमत के ख़िलाफ़ नारे लगाते हुए मुलाज़िमीन ने मुतालिबा किया कि हुकूमत को उनके मसले का कोई मुस्तक़िल हल निकालना चाहिए और वो एमसीडी वर्करों की तनख़्वाहों की अदायगी के लिए दिए जानेवाले पैसा को क़र्ज़ नहीं बल्कि मदद के तौर पर क़बूल करेंगे।

दिल्ली हुकूमत कोय सूरत-ए-हाल पैदा करने का क़सूरवार ठहराते हुए एमसीडी के डेढ़ लाख में से मुतअद्दिद मुलाज़िमीन तीन माह से तनख़्वाह ना मिलने की वजह से एक हफ़्ते से ज़्यादा अरसा से काम नहीं कर रहे हैं उनमें सफ़ाई कर्मचारी , टीचर , नर्सें , डाँक्टर शामिल हैं।

कल एहतेजाजी मुलाज़िमीन ने मुख़्तलिफ़ मुक़ामात पर सड़कों पर ट्रैफ़िक रोकी और जगह जगह कूड़े के ढेर लगा दिए कई जगह तो वो नाराज़गी ज़ाहिर करने के लिए छोटे छोटे ट्रकों में कूड़ा भर कर लाए और सड़कों पर डाल दिया ताकि लोगों को परेशानी हो। दिल्ली के वज़ीर-ए-आला अरविंद केजरीवाल ने कल एहतेजाजी वर्करों से दरख़ास्त की थी कि वो हड़ताल ख़त्म कर दें वो तनख़्वाहों की अदायगी के लिए 551 करोड़ रुपये बतौर क़र्ज़ जारी करने को तैयार हैं। इस मामले की सीबीआई इंकुआयरी का मुतालिबा करते हुए उन्होंने एमसीडी पर दिल्ली हुकूमत के दिए हुए पैसे का ग़लत इस्तेमाल करने का इल्ज़ाम लगाया|

TOPPOPULARRECENT