Sunday , August 20 2017
Home / India / न्याय यात्रा की बंग्लूरू में आमद

न्याय यात्रा की बंग्लूरू में आमद

बंग्लूरू: न्याय यात्रा को आजलाना और शफ़्फ़ाफ़ इन्साफ़ रसाई निज़ाम पर शऊर बेदार करने के लिए निकाली गई है आज बैंगलोर पहुंच गई। इस यात्रा का एहतेमाम फ़ोर्म फ़ार फ़ास्ट जस्टिस ने किया है।

मोटर गाडियों के क़ाफ़िलों पर मुश्तमिल दो यात्राएं 3 जनवरी को दिल्ली से रवाना हुईं, एक कश्मीर से कन्याकुमारी और दूसरी कुछ गुजरात से कोलकता पहुँचेगी और ये यात्रा 4मार्च को जंतर मंत्र में इख़तेताम पज़ीर होगी।

दिल्ली में 5 और 6 मार्च को क़ौमी कनवेनशन मुनाक़िद होगा जिसमें मुल्क भर से मंदूबीन शरीक होंगे। इस मौक़े पर एक क़रारदाद मंज़ूर करते हुए अदलिया के निज़ाम को फ़आल और हरकियाती बनाने का मुतालिबा किया ताकि आजलाना इन्साफ़ रसाई को यक़ीनी बनाया जा सके।

मज़कूरा फ़ोर्म के ज़रिये मुल्क की मुख़्तलिफ़ अदालतों में 3 करोड़ से ज़्यादा मुक़द्दमात है और मुरव्वजा तरीका-ए-कार से समाअत की गई तो मुक़द्दमात की यकसूई के लिए100 दरकार होंगे।

एक ग़ैर सरकारी तंज़ीम CRISP जोकि हुक़ूक़ इतफ़ाल के तहफ़्फ़ुज़ के लिए जद्द-ओ-जहद कर रही है के सदर कुमार जागीरदार ने बताया कि अदलिया के लिए बजट में इज़ाफ़ा और मुक़र्ररा वक़्त में इन्साफ़ रसाई को यक़ीनी बनाने की ज़रूरत है।

उन्होंने कहा कि बजट में सिर्फ 0.2 फ़ीसद अदलिया के लिए मुख़तस किया जाता है जबकि हमारा मुतालिबा है कि कम अज़ कम 2 फ़ीसद तक बढ़ाया जाये ताकि मज़ीद अदालतों का क़ियाम और मज़ीद जजस का तक़र्रुर किया जाये। उन्होंने इल्ज़ाम आइद किया कि तेज़-रफ़्तार इन्साफ़ रसाई की राह में सियास्तदान रुकावट पैदा कर रहे हैं|

TOPPOPULARRECENT