Tuesday , October 24 2017
Home / India / पकवान गैस को डी बी टी के तहत लाने की कोशिश

पकवान गैस को डी बी टी के तहत लाने की कोशिश

नई दिल्ली 10 अप्रैल ( पी टी आई ) हुकूमत पकवान गैस सारफ़ीन को सबसिडी की रक़म नक़द रास्त मुंतक़िल करने की स्कीम के तरीक़ेकार का जायज़ा ले रही है। वज़ीर पैट्रोलीयम एम वीरप्पा मोईली ने ये बात बताई । मोईली ने वज़ीर फाईनानस‌ मिस्टर पी चिदम़्बरम

नई दिल्ली 10 अप्रैल ( पी टी आई ) हुकूमत पकवान गैस सारफ़ीन को सबसिडी की रक़म नक़द रास्त मुंतक़िल करने की स्कीम के तरीक़ेकार का जायज़ा ले रही है। वज़ीर पैट्रोलीयम एम वीरप्पा मोईली ने ये बात बताई । मोईली ने वज़ीर फाईनानस‌ मिस्टर पी चिदम़्बरम से मुलाक़ात के बाद कहा कि हम ने एल पी जी को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफ़र स्कीम के तहत लाने पर तबादला ए ख़्याल किया है।

मोईली ने कहा, हमारा मानना है कि पकवान गैस सबसिडी को भी इस स्कीम के तहत लाया जा सकता है। ओ- ज़ारत फ़ै नानिस की जानिब से एल पी जी को इस स्कीम के तहत लाने के तरीक़ेकार पर ग़ौर किया जा रहा है। हुकूमत पकवान गैस सबसिडी को इस स्कीम के तहत मरहलावार अंदाज़ में लाना चाहती है और 15 मई तक मुल्क के 20 अज़ला का अहाता किया जाएगा ।

इसे मुल्क भर में वुसअत दी जाएगी जब फायदा उठाने वाले लोग आधार कार्ड हासिल करलें और उनके बैंक अकाउंट को आधार से मरबूत करदिया जाये । जैसे ही इस स्कीम के तहत एल पी जी को भी लाया जाएगा हुकूमत तक़रीबा 4000 रुपय सालाना सारफ़ीन के अकाउंट में मुंतक़िल कर देगी ताकि वो साल भर में 9 गैस सलेंडर तेल कंपनियों से मार्किट कीमत के मुताबिक़ खरीद सकें ।

TOPPOPULARRECENT