Sunday , October 22 2017
Home / Crime / पटना में बी डी ओ से लेकर रीवैन्यू क्लर्क तक रिश्वतखोर

पटना में बी डी ओ से लेकर रीवैन्यू क्लर्क तक रिश्वतखोर

रियास्ती महिकमा इंटेलीजेंस बिहार के तीन अज़ला में तीन आला सतही ओहदेदारों बिशमोल बी डी ओ को मुबय्यना तौर पर रिश्वत लेते हुए गिरफ़्तार किया गया। दरीं असना ए डी जी (वीजिलनेस) पी के ठाकुर ने कहा कि बलॉक डेवलपमेंट ऑफीसर अजय प्रसाद, पंचा

रियास्ती महिकमा इंटेलीजेंस बिहार के तीन अज़ला में तीन आला सतही ओहदेदारों बिशमोल बी डी ओ को मुबय्यना तौर पर रिश्वत लेते हुए गिरफ़्तार किया गया। दरीं असना ए डी जी (वीजिलनेस) पी के ठाकुर ने कहा कि बलॉक डेवलपमेंट ऑफीसर अजय प्रसाद, पंचायत सेक्रेटरी अवधेश कुमार और एक रीवैन्यू क्लर्क को 5000 , 20,000 और 5000 रुपय की रिश्वत बिलतर्तीब बेगूसराय, समस्ती पर और वैशाली अज़ला में लेते हुए गिरफ़्तार किया गया।

वीजीलनेस अफ्सरान को जैसे ही खु़फ़ीया इत्तेला मिली, उन्होंने फ़ौरी तौर पर हरकत में आते हुए बी डी ओ गुप्ता को 5000 रुपय की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ़्तार कर लिया जो दफ़रपोर PACS (प्राइमरी एग्रीकल्चर कोऔप्रेटीव सोसाइटी) के सदर नशीन गणेश शंकर सिंह नामी शख़्स से हासिल कररहे थे, जिस के इव्ज़ उन्हें ज़िला बेगूसराय में धान के लिए रक़म की इजराई करना था। क़ब्लअज़ीं वीजीलनेस अफ्सरान ने पंचायत सेक्रेटरी अवधेश कुमार को गिरफ़्तार किया था जो एक टीचर से 20,000 रुपय की रिश्वत क़बूल कर रहे थे।

इन की शिकायत ख़ुद टीचर ने करदी थी और कहा था कि अवधेश कुमार टीचर के बक़ायाजात की इजराई केलिए रिश्वत मांग रहे थे। अवधेश कुमार को पूछगिछ के लिए यहां लाया गया है। इसी तरह ओहदेदारों को जाल में फांसने की एक और मुहिम में रियास्ती वीजीलनेस ब्यूरो के अफ्सरान ने समस्तीपुर में एक मुक़ाम पर धावा करते हुए रीवैन्यू क्लर्क चंद्रकांत मिश्रा को उस वक़्त रंगे हाथों गिरफ़्तार कर लिया जब वो अंकेश कुमार नामी एक शख़्स से 5000 रुपय की रिश्वत क़बूल कररहे थे।

बी डी ओ, पंचायत सेक्रेटरी और रीवैन्यू क्लर्क को ख़ुसूसी वीजीलनेस अदालत में पेश करने के लिए पटना लाया गया।

TOPPOPULARRECENT