Sunday , October 22 2017
Home / Islami Duniya / पाक,अमरीकी ताल्लुक़ात आइन्दा न्यूक्लियर टैक्नालोजी की मुंतक़ली से मरबूत

पाक,अमरीकी ताल्लुक़ात आइन्दा न्यूक्लियर टैक्नालोजी की मुंतक़ली से मरबूत

ईस्लामाबाद । 6 जनवरी । ( पी टी आई ) पाकिस्तान इमकान है कि अमरीका के साथ अपने आइन्दा ताल्लुक़ात को सिविल न्यूक्लियर टैक्नालोजी की अमरीका से पाकिस्तान मुंतक़ली से मरबूत कर देगा ताकि मुल्क में बर्क़ी तवानाई की शदीद क़िल्लत पर क़ाबू

ईस्लामाबाद । 6 जनवरी । ( पी टी आई ) पाकिस्तान इमकान है कि अमरीका के साथ अपने आइन्दा ताल्लुक़ात को सिविल न्यूक्लियर टैक्नालोजी की अमरीका से पाकिस्तान मुंतक़ली से मरबूत कर देगा ताकि मुल्क में बर्क़ी तवानाई की शदीद क़िल्लत पर क़ाबू पाया जा सके । पारलीमानी कमेटी बराए क़ौमी सलामती ने वज़ीर-ए-आज़म को ये ज़िम्मेदारी सपुर्द की है कि अमरीका के साथ ताल्लुक़ात केलिए क़वाइद-ओ-ज़वाबत का तीन करें जिन्हों ने ऐलान किया है कि आइन्दा ताल्लुक़ात मशरूत होंगे और सिविल न्यूक्लियर टैक्नालोजी की पाकिस्तान को मुंतक़ली के मुआहिदा से मरबूत होंगे ।

रोज़नामा दी न्यूज़ ने सरकारी ज़राए के हवाले से आज उस की ख़बर शाय की है ।पाकिस्तान अमरीका पर ज़ोर दे रहा है कि पाकिस्तान को अमरीकी सिविल न्यूक्लियर टैक्नालोजी तक रसाई फ़राहम की जाय । अमरीका ने जब से हिंदूस्तान के साथ सिविल न्यूक्लियर तवानाई मुआहिदा किया है , इसी वक़्त से पाकिस्तान का ये परज़ोर मुतालिबा है । सदर नशीन कमेटी रज़ा रब्बानी ने कल कहा था कि कमेटी अपनी सिफ़ारिशात को क़तईयत देना बंद कर देगी कीवनका उस की ज़िम्मेदारी वज़ीर-ए-आज़म के सपुर्द करदी गई है ।

उन्हों ने कमेटी की मुजव्वज़ासिफ़ारिशात की तफ़सीलात का इन्किशाफ़ नहीं किया । रोज़नामा दी न्यूज़ की ख़बर के बमूजब कमेटी ने फैसला किया है कि पाकिस्तानी मसनूआत-ओ-अमरीकी और योरोपी बाज़ारों तक रसाई फ़राहम की जाय । कमेटी ने अमरीकी ड्रोन हमलों के मुकम्मल बंद कर दिए जाने का भी मुतालिबा किया है ।

इस के इलावा पाकिस्तान की ख़ुदमुख़तारी और इलाक़ाई सालमीयत के एहतिराम को यक़ीनी बनाने और पाकिस्तान की हदूद कीमुस्तक़बिल में ख़िलाफ़वरज़ी ना करने का भी मुतालिबा किया है । सिफ़ारिशात का मुसव्वदा नाटो अफ़्वाज को जो अफ़्ग़ानिस्तान में तैनात है बराह पाकिस्तान रसद की सरबराही मस्दूदकरने का भी ख़ाहां है। कमेटी चाहती है कि अमरीका । पाकिस्तान ताल्लुक़ात मसावात की बुनियाद पर हों ।

कमेटी अपनी सिफ़ारिशात को मज़ीद चंद इजलास मुनाक़िद करने के बाद क़तईयत देगी । वज़ीर-ए-आज़म यूसुफ़ रज़ा गीलानी ने पारलीमानी कमेटी से ख़ाहिश की है कि अमरीका । पाक ताल्लुक़ात की नई शराइत की सिफ़ारिश की जाय जो नाटो के पाकिस्तानी सरज़मीन पर फ़िज़ाई हमले और इस में फौजियों की हलाकत के बाद कशीदगी पैदा होगई है ।

TOPPOPULARRECENT