Tuesday , September 26 2017
Home / India / पाकिस्तान से आई गीता अब ट्रेन में बैठकर तलाशेगी फैमिली, रेलवे देगा गेस्ट का दर्जा

पाकिस्तान से आई गीता अब ट्रेन में बैठकर तलाशेगी फैमिली, रेलवे देगा गेस्ट का दर्जा

नई दिल्ली : आठ महीने पहले पाकिस्तान से भारत लौटी गीता की फैमिली का अब तक पता नहीं लग सका है। बता दें कि गीता न बोल सकती है और न सुन सकती है। गीता अब ट्रेन के जरिए फैमिली को खोजना चाहती है। उसकी यह सलाह फॉरेन मिनिस्ट्री ने मान ली है। इस बारे में एक प्रपोजल रेलवे मंत्रालय को भेजा गया है।
फॉरेन मिनिस्ट्री के स्पोक्सपर्सन विकास स्वरूप ने कहा. हमें उम्मीद है कि रेल मंत्रालय इस सुझाव को मान लेगा। जैसे ही गर्मी कम होगी। गीता की यात्रा शुरू हो जाएगी। रेलवे से यह रिक्वेस्ट भी की गई है कि वो वो गीता को गेस्ट का दर्जा देकर उसे सभी फेसेलिटीज दिलाई जाएं। माना जा रहा है कि सफर के दौरान गीता के साथ उसके कुछ असिस्टेंट भी रहेंगे। गीता बोल और सुन नहीं सकती है इसलिए असिस्टेंट के अलावा एक इंटरप्रेटर भी गीता के साथ होगा ताकि लोगों को गीता की बातें समझाई जा सकें।
गीता इस वक्त इंदौर के एक एनजीओ के पास है। जहां वो कई चीजें सीख रही है। वह अब भरतनाट्यम में काफी ट्रैंड हो गई है। वो एक्टिंग भी करने लगी है। उसने कई नाटकों में भी रोल प्ले किए हैं। उसे सिलाई-कढ़ाई का भी शौक है। गीता के कमरे में फ्रिज और गैस चूल्हा है। वो अपना खाना खुद बनाती है।

TOPPOPULARRECENT