Wednesday , September 20 2017
Home / Featured News / पाकिस्तान से बलूच को आजाद कराएं मोदी- नेला कादरी

पाकिस्तान से बलूच को आजाद कराएं मोदी- नेला कादरी

बलूचिस्तान। नेला कादरी बलूच एक ऐक्टिविस्ट और महिला नेता हैं। वह बलूचिस्तान में पाकिस्तान की मौजूदगी के खिलाफ कैंपेन चला रही हैं। कादरी ने आरती टिकू सिंह से बात की। उन्होंने बताया कि किस तरह पाकिस्तान ने बलूचिस्तान पर कब्जा कर रखा है और वहां नरसंहार, आतंकवाद, रेप की वारदात को अंजाम दिया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि उनकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से क्या उम्मीद है। कादरी ने कहा कि मोदी को बलूचिस्तान की आजादी की लड़ाई में मदद करनी चाहिए।

कादरी ने कहा, ‘मैं यहां इसलिए हूं क्योंकि भारत के लोगों और यहां की सरकार की अन्तरात्मा को जगाना चाहता हूं। पिछले 15 सालों से हम पाकिस्तान के जुल्म को सह रहे हैं। मानवाधिकारों का उल्लंघन और लोगों को मारकर फेंक देना पाकिस्तान की नीति है। बच्चों और महिलाएं समेत करीब 25,000 लोग गायब हैं। इन्हें पाकिस्तानी आर्मी ने लोगों के सामने से अगवा कर लिया है। लोग इसके गवाह हैं। लेकिन यह मामला केवल मानवाधिकारों के उल्लंघन और लोगों के गायब होने का नहीं है।

यह नरसंहार की हद तक पहुंच गया है। बलूचिस्तान में सैकड़ों सामूहिक कब्रें हैं। यह एक तरह से युद्ध की स्थिति है। इन्होंने हमारे गांवों को साफ कर दिया है। ये अंधाधुंध फायरिंग करते हैं। ये किसी की भी हत्या कर सकते हैं। चाहे वह एक साल की बच्ची हो, लड़की हो या महिला हो। ये इनके साथ रेप करने से भी बाज नहीं आते। यहां सरकारी यातना गृह हैं। एक पत्रकार को अगवा कर लिया गया था।

उसे प्रताड़ित किया गया क्योंकि वह 25 साल की एक बलूच टीचर जरीना मारी के साथ हुए रेप का गवाह था। जब उस पत्रकार को छोड़ा गया तब उसने एशियन ह्यूमन राइट्स वॉच को अपनी रिपोर्ट दी थी। यहां से हजारों महिलाओं को अगवा किया गया। ये महिलाएं कहां हैं किसी को पता नहीं है। ये इनके साथ रेप करते हैं। यहां लगों की आवाज बर्बरता से दबाई जा रही है।’

TOPPOPULARRECENT