Sunday , August 20 2017
Home / World / पाक के एटम बम हमले की धमकी पर अमेरिका और रूस ने चेताया

पाक के एटम बम हमले की धमकी पर अमेरिका और रूस ने चेताया

U.S. President Barack Obama speaks in the Brady Press Briefing Room of the White House in Washington, D.C., U.S., on Sunday, June 12, 2016. Obama decried the deadliest mass shooting in American history on Sunday as an "act of terror" and an "act of hate" targeting a place of "solidarity and empowerment" for gays and lesbians. Photographer: Pete Marovich/Bloomberg via Getty Images

भारत के पुराने दोस्त रूस ने भारत-पाकिस्तान की मौजूदा तनावपूर्ण स्थिति पर इंडिया का पक्ष लिया है. रूस ने पाकिस्तान से अपने देश में मौजूद आतंकवादियों पर उचित कार्रवाई करने को कहा है. उधर, अमेरिका ने भी पाकिस्तान के भारत को न्यूक्लिअर अटैक की धमकी देने का विरोध किया है. पीटीआई के मुताबिक, अमेरिका ने मजबूती से अपना स्टैंड पाकिस्तान को बता दिया है कि वह भारत को धमकाए जाने से खुश नहीं है.

रूस के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि वह आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में साथ है. रूस ने भारत और पाकिस्तान को मौजूदा स्थिति को और खराब नहीं करने को कहा है. रूस ने कहा है कि वह भारत और पाक के बीच LoC पर तनाव बढ़ने से चिंतित है. भरोसेमंद दोस्त रूस ने भारत-पाक से राजनीतिक और कूटनीतिक तरीकों से अपनी समस्या को हल करने को कहा है. एक वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा है कि अमेरिका ने पाकिस्तान को साफ-साफ शब्दों में यह बात कही है कि भारत को न्यूक्लिअर अटैक की धमकी देने से वह खुश नहीं है. अधिकारी ने कहा कि यह बहुत ही चिंता का विषय है और गंभीर मामला है. उधर, पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने बीते 15 दिनों में दो बार कहा है कि पाकिस्तान भारत के खिलाफ न्यूक्लिअर अटैक कर सकता है.

इसी बयान के बाद ओबामा प्रशासन का ध्यान पाक की ओर खींचा है और अमेरिकी सरकार ने इसे गैरजिम्मेदार करार दिया है. न्यूक्लिअर हथियारों की सुरक्षा के सवाल पर अमेरिकी अधिकारी ने कहा है कि न्यूक्लिअर हथियारों की रक्षा की मॉनिटरिंग कर रहा है. अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंट के अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान कुछ भी कहे, लेकिन अमेरिका पहले से ही पाकिस्तान के न्यूक्लिअर हथियारों की सेफ्टी पर नजर रखे हुए है.

उधर, अमेरिका के विदेश मंत्रालय के उप-प्रवक्ता मार्क टोनर ने कहा है कि न्यूक्लिअर हथियार वाले देशों के ऊपर ‘बहुत जिम्मेदारी’ है. इससे पहले अमेरिका ने उरी अटैक की निंदा की है और पाकिस्तान और भारत से तनाव खत्म करने की अपील भी की थी.

TOPPOPULARRECENT