Sunday , June 25 2017
Home / Entertainment / पाक मीडिया के मुताबिक ओम पुरी की मौत एक साजिश, मुंबई पुलिस का मौत में साजिश से इनकार

पाक मीडिया के मुताबिक ओम पुरी की मौत एक साजिश, मुंबई पुलिस का मौत में साजिश से इनकार

मुंबई पुलिस ने अभिनेता ओम पुरी की मौत के मामले में किसी साजिश से इनकार किया है। पुलिस ने सोमवार को कहा कि अभी उसे पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। 66 वर्षीय अभिनेता शुक्रवार को ओशिवारा इलाके के अपने घर में अचेत अवस्था में पाए गए थे। उन्हें आनन-फानन में कूपर अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया था। लेकिन इस बारे में कोई बयान दर्ज नहीं किया गया था।

ओम पुरी के विसरा के नमूने फोरेंसिक नमूनों के लिए भेज दिए गए थे। सोशल मीडिया पर ओम पुरी की मौत को लेकर चल रही तमाम खबरों पर तो पुलिस ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस आधिकारिक बयान देगी। ओम पुरी के सिर में चोट का निशान था, जो संभवत : गिरने के कारण उन्हें लगी थी। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों का कहना है कि पुरी की मौत संभवत: सुबह 5.30 बजे से छह बजे के बीच हुई।

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार ओमपुरी की हत्या हुई थी और यह हत्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने कराई. इसके अलावा सलमान खान, माहिरा खान और फवाद खाने का कत्ल करने की साजिश भी रची जा चुकी है. पाकिस्तानी चैनल बोल टीवी ने अपने आधे घंटे के इस प्रोग्राम में आरएसएस और शिवसेना पर भी लांछन लगाए हैं. एंकर कहता है कि ओमपुरी के कत्ल की साजिश दिल्ली में अजीत डोभाल ने रची. पूरी प्लानिंग डोभाल के खासमखास राजेश ने शकुंतला के घर पर बैठकर की.

इस कार्यक्रम में कहा गया है कि ओमपुरी ने एक भारतीय फौजी की शहादत पर बेजा टिप्पणी की थी. जो भारत सरकार को बहुत बुरा लगा. इसलिए मौत से एक हफ्ते पहले डोभाल ने ओमपुरी को दिल्ली बुलाकर गंदी-गंदी गालियां दीं और कहा-शहीद जवान के घर जाकर आंसू बहाओ. तुमने शहीद का अपमान किया है, इसलिए तुम्हे मरना तो पड़ेगा ही लेकिन अगर शहीद के घर जाकर आंसू बहाओगे तो हम यह सुनिश्चित करेंगे कि तुम्हारी मौत सुकून से हो.

उनके मुताबिक ओमपुरी को पहले जबरन शराब पिलाई गई और इसके बाद तकिए से दबाकर उनका दम घोंट दिया गया. बोल टीवी के एक प्रोग्राम के अनुसार सलमान खान, माहिरा खान और फवाद खाने का कत्ल करने की साजिश भी रची जा चुकी है. एंकर बताता है कि माहिरा को भीड़ के हाथों मरवाया जाएगा. उसे दिल्ली में एक रईस की पार्टी में बुलाया जाएगा. वहीं भीड़ हमला कर देगी.

इसके अलावा बोल टीवी ने यह भी कहा कि ओमपुरी के साथ 47 फिल्मों में काम करने वाले अनुपम खेर, नाना पाटेकर और नंदिता दास उनकी अंत्येष्टि में शामिल नहीं हुए. एंकर के अनुसार अनुपम खेर ने कहा कि मैं एक गद्दार की अंत्येष्टि में शामिल नहीं हो सकता. गौरतलब है कि अनुपम खेर को मोदी का प्रबल समर्थक माना जाता है. उनकी पत्नी किरण खेर भारतीय जनता पार्टी की सांसद भी हैं.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT