Friday , August 18 2017
Home / AP/Telangana / पुराना शहर में ख़ातून का कई साल तक रपे और ब्लैकमेलिंग का वाक़िया

पुराना शहर में ख़ातून का कई साल तक रपे और ब्लैकमेलिंग का वाक़िया

हैदराबाद 31 मई: ख़वातीन और लड़कीयों को हरासाँ करना मुबय्यना तौर पर उनकी अर्यां तसावीर हासिल करना और उनकी वीडीयोज़ तैयार करना और फिर जबरन उनका जिन्सी इस्तिहसाल करना इन बातों के ज़रीये स्नेक गंग की यादें ताज़ा होजाती हैं लेकिन शहरीयों को ये जान कर हैरत होगी कि एक एसी टोली का पर्दा फ़ाश हुआ है और ये वाक़िया भी पहाड़ी शरीफ़ पुलिस स्टेशन के हुदूद ही में पेश आया है।

ये टोली अपने ख़ातून रिश्तेदार को हरासाँ-ओ-परेशान कर रही थी ओ रास टोली में एक ख़ातून भी शामिल है लेकिन इस मुआमले में भी पहाड़ी शरीफ़ पुलिस का रवैय्या मशकूक और इल्ज़ामात का सामना कर रहा है जैसा कि स्नेक गैंग की कारस्तानीयों पर मुबय्यना पर्दापोशी और तसाहली बरती गई थी। उस वक़्त कमिशनर के सख़्त इक़दामात ओहदेदारों के तबादलों और मुअत्तली से हालात में बेहतरी पैदा हुई थी।

बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ पहाड़ी शरीफ़ पुलिस की हिरासत में दो नौजवान जिन पर एक ख़ातून की इजतेमाई आबरूरेज़ी और हरासानी के अलावा इस ख़ातून को ब्लैक मेल करते हुए इस से भारी रक़म हड़पने के संगीन इल्ज़ामात पाए जाते हैं।

मुबय्यना तौर पर मुतास्सिरा ख़ातून ने अपने शौहर के सात कमिशनर पुलिस साइबराबाद से रुजू हो कर शिकायत की थी जिस पर स्पेशल ऑप्रेशन टीम ने कार्रवाई करते हुए दो नौजवानों को गिरफ़्तार कर लिया। एसओटी की कार्रवाई के बावजूद भी इंस्पेक्टर पहाड़ी शरीफ़ चला पति इस वाक़िया को मामूली तसव्वुर करते हैं और दरपर्दा ख़ातून को भी ज़िम्मेदार मानते हैं
और केस की तफ़सीलात पूछने पर तहक़ीक़ात का बहाना बनारहे हैं।

बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ पहाड़ी शरीफ़ पुलिस स्टेशन हुदूद में रहने वाली ख़ातून का शौहर पिछ्ले कई सालों से बैरून-ए-मुल्क रोज़गार पर था और पिछ्ले एक साल पहले वो वापिस आगया और यहां मुस्तक़िल रहने लगा और पिछ्ले एक साल के अरसा से ये शख़्स अपनी बीवी को रक़म नहीं दे रहा था जिसके सबब ख़ातून के साथ हरासानी और ब्लैकमेलिंग में इज़ाफ़ा हो गया। वो मजबूर हो गई और उसने बिलआख़िर सारी हक़ीक़त अपने शौहर से बयान कर दी। अपनी बीवी के साथ हरासानी और एसे वाक़ियात पर इस शख़्स ने हिम्मत जताते हुए बीवी का साथ दिया और उसे हिम्मत दिलाई।

एक माह तक वो बीवी के फ़ोन कॉल्स को बीवी की मदद से सुनता रहा जिसमें ख़ातून को परेशान किया जाता था और तरह तरह की बातें कही जाती थीं जिसके बाद मसले को पुलिस से रुजू कर दिया गया। बावसूक़ ज़राए के मुताबिक़ मुतास्सिरा ख़ातून की रिश्तेदार एक ख़ातून इस मुआमले की असल सरग़ना होने का इल्ज़ाम है। जब मुतास्सिरा ख़ातून का शौहर बैरून-ए-मुल्क मुक़ीम था रिश्तेदार ख़ातून उसे एक मकान लेगई और पड़ोसी से मुतास्सिरा ख़ातून का तआरुफ़ करवाया जहां मुतास्सिरा ख़ातून के इल्ज़ामात के मुताबिक़ कोल्ड ड्रंग में उसे नशीली दवा दी गई और जब उसे होश आया तो उसे उस की तसावीर और वीडीयो बताई गई और सोशल नेटवर्किंग साईट और फ़हश साईट पर लोड करने की धमकी दी गई और रिश्तेदार ख़ातून की मदद से इस से रक़म हासिल करते गए और अपनी जिन्सी ख़ाहिशात को भी पूरा करना चाहा ना करने की सूरत में संगीन इल्ज़ामात लगाए जा रहे हैं। मुतास्सिरा ख़ातून और इस के ज़राए के मुताबिक़ इस ख़ातून से लाखों रुपये हड़प लिए गए। पुलिस पहाड़ी शरीफ़ इन इल्ज़ामात की तहक़ीक़ात कर रही है।

TOPPOPULARRECENT