Friday , August 18 2017
Home / India / पुरानी मुद्रा विनिमय की सीमा केवल 2000 रुपये

पुरानी मुद्रा विनिमय की सीमा केवल 2000 रुपये

नई दिल्ली 18 नवंबर: उच्च मूल्य की मुद्रा का चलन बंद करने की वजह से ऐसे लोगों को जहां शादी तय है और किसानों को जबकि यह बीज बोने का मौसम है दरपेश मुश्किलात के मद्देनजर सरकार ने उन्हें सुविधा देने का फैसला किया है। लेकिन बहुपद विनिमय सीमा में आधे से भी कम कर दी गई है। यही नहीं बल्कि किसी भी व्यक्ति 30 दिसंबर तक केवल एक ही बार बहुपद विनिमय की सुविधा प्राप्त रहेगी।

सचिव आर्थिक मामलों शक्ति कांता दास ने कहा कि ऐसे परिवार जो शादी की तैयारी कर रहे हैं अपने बैंक खाते से पैन विवरण और सेल्फ डिक्लेरेशन दाखिल करते हुए 2.5 लाख रुपये तक राशि प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि व्यक्तिगत रूप से जनता को 500 और 1000 रुपये समाप्त की गई मुद्रा विनिमय करते हुए 4500 रुपये हासिल करने की जो सुविधा थी उसे घटाकर 2000 रुपये कर दिया गया और वह भी 30 दिसंबर तक केवल एक बार यहत बादला किया जा सकता है।

इसी तरह किसान अपने किसान क्रेडिट कार्ड या फसलों पर लिए गए ऋण के लिए सप्ताह में 25 हजार रुपये की राशि प्राप्त कर सकता है। उन्होंने बताया कि मेट्रो शहरों में निर्वाचित बैंक शाखाओं पर बहुपद स्वैप करने वालों की उंगली पर स्याही लगाने का काम पहले ही शुरू किया जा चुका है।

उन्होंने कहा है कि सरकार के पास पर्याप्त नकदी उपलब्ध है लेकिन विनिमय सीमा में कमी की वजह यह है कि अधिक से अधिक लोगों को काउंटर तक पहुंचने में मदद मिल सके। हमने यह महसूस किया है कि कई लोग बहुपद स्वैप नहीं कर पा रहे हैं। इसके विपरीत कुछ लोग लगातार काउंटरस रुजू होकर कई बार बहुपद विनिमय करा रहे हैं। इसलिए दूसरों को भी फायदा पहुँचाने के लिए यह कदम उठाया गया।

TOPPOPULARRECENT