Saturday , October 21 2017
Home / Bihar News / पुर्णियां बाढ़ UPDATE: 10000 लोग फंसे, मदद के लिए लगा रहे हैं गुहार, कोई सुनने वाला नहीं

पुर्णियां बाढ़ UPDATE: 10000 लोग फंसे, मदद के लिए लगा रहे हैं गुहार, कोई सुनने वाला नहीं

पुर्णियां: नेपाल के जल अधिग्रहण क्षेत्र से पानी छोड़े जाने के कारण व भारी बारिश होने से पुर्णियां जिले की अधिकांश नदियां बाढ़ की चपेट में हैं। जिसमें प्रमाण नदी का पानी उफान पर है जिस वजह से अमौर प्रखण्ड के लगभग सभी गाँव बुरी तरह प्रभावित हैं, लेकिन तियरपाडा पंचायत के गाँव लखनारे,जमीरा और अगागंज बुरी तरह प्रभावित हुआ है लेकिन प्रशासन की ओर किसी भी तरह की कोई राहत नहीं मिल सका जिस कारण वहां का जन जीवन अस्त व्यस्त हो चूका है लोग अपने घरों से पलायन कर स्कूलों व धार्मिक स्थलों में रहने को मजबूर हैं.

IMG_20160727_123043254 IMG_20160727_123332994 IMG_20160727_123743336IMG_20160727_123621007

भूतपूर्व सरपंच मोहम्मद नय्यर आलम ने गाँव का दौरा करवया और सिआसत से स्थानीय संवादाता को बताया कि यह एक जमीरा गाँव का सरकारी मदरसा है जिसके चारों ओर जल भर जाने के कारण पढाई में बाधा आ रही है साथ ही गाँव के वह लोग जीके घर जल मग्न हो गया है इसमें पनाह लिए हुए हैं और जिंदगी से जूझ रहे हैं और सरकारी या गैर सरकारी मदद को तरस रहे हैं.

IMG_20160727_131720195 IMG_20160727_131815927 IMG_20160727_132119680IMG_20160727_134904365

यह जमीरा गाँव में जल भर जाने के कारण सड़क भी जगह जगह से टूट चूका है इस तस्वीर में आप प्रभावित घर व रास्ते पे चल रहे लोगों को देखा जा सकता है, हजारों लोग प्रभावित हैं जन सम्पर्क का मात्र एक विकल्प नाव है जो सिर्फ एक है और ना काफी है इसलिए केले के पेड़ से बनाया गया एक नाव जैसी चीज़ को देखा जा सकता है.

IMG_20160727_132826931 IMG_20160727_133102824  IMG_20160727_133922476IMG_20160727_135237206

यह लखनारे मध्य विद्यालय है जहाँ लगभग 60 परिवार अपना घर बार छोड़ कर यहाँ रहने को मजबूर हैं यहाँ दो दिन तो स्कूल की तरफ से खाने का इन्तेजाम हो पाया उसके बाद राशन खत्म होने के कारण यह लोग भूके रहने को मजबूर हैं लेकिन कोई अधिकारी अभी तक इनकी खैर खबर लेने नहीं आये यहाँ के जन प्रतिनिधि नय्यर आलम ने BDO व् सीओ से सम्पर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने कोई पोसिटिव रेस्पोंस तो दूर की बात सुनने तक को तैयार नहीं हैं. इस स्कूल के शोचालय तक में पानी घुस गया है .

IMG-20160727-WA0008 IMG-20160727-WA0010IMG_20160727_135117490

यह तियर्पाड़ा पंचायत का आगा गंज गाँव है जो प्रमाण नदी के मुंह पर होने के कारण जन सम्पर्क बिलकुल टूट चूका है यहाँ की स्तिथि बहुत ही विकट है इस गाँव में लगभग 10000 लोग फंसे हुए हैं पर प्रशासन की ओर कोई वयवस्था नहीं है लोग भूक के कारण अपनी जान पर खेल कर इस गाँव से बाहर आ कर खाने पीने का इन्तेजाम करते हैं क्यूंकि पानी में सर्वधिक तेज़ी होने के कारण इन्हें बहुत कठिनाई का सामना है.

 

 

TOPPOPULARRECENT