Saturday , October 21 2017
Home / Crime / पुलिस से बचने के लिए छलांग लगाने वाला मुस्लिम नौजवान फ़ौत

पुलिस से बचने के लिए छलांग लगाने वाला मुस्लिम नौजवान फ़ौत

सईदा बाद और मादना पेट में हालिया फ़िर्कावाराना फ़साद के बाद हालात मामूल के मुताबिक़ हो जाने के बावजूद पुलिस बदस्तूर मुस्लिम नौजवानों का मुबय्यना तौर ग़ैरज़रूरी तआक़ुब कर रही है जिस के नतीजा में आसमान गढ़ मलक पेट में एक मुस्लिम

सईदा बाद और मादना पेट में हालिया फ़िर्कावाराना फ़साद के बाद हालात मामूल के मुताबिक़ हो जाने के बावजूद पुलिस बदस्तूर मुस्लिम नौजवानों का मुबय्यना तौर ग़ैरज़रूरी तआक़ुब कर रही है जिस के नतीजा में आसमान गढ़ मलक पेट में एक मुस्लिम नौजवान ने पुलिस से बचने के लिए आज अपने मकान से छलांग लगा दी जिस की वजह से इस की बरसर मौक़ा मौत हो गई और शहर के मुस्लमानों में ख़ौफ़ हरासानी और ग़म-ओ-ग़ुस्सा की लहर दौड़ गई । ज़राए ने बताया कि मुक़ामी पुलिस मुखबिरों ने फ़ैसल और इस के साथीयों की निशानदेही की थी और पुलिस को इन नौजवानों को माख़ूज़ करने का मश्वरा दिया था ।

ये वाक़िया आज रात साढे़ दस बजे उस वक़्त पेश आया जब 30 साला सय्यद फ़ैसल मुजीब उर्फ़ मुज्जू वल्द सय्यद बशीर साकिन आसमान गढ़ बस्ती अपने बहन के ज़ेर-ए-तामीर मकान के छत पर अपने चंद दोस्तों के हमराह बैठा हुवा था कि वहां पर नौजवानों की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस की एक टीम पहुंची । पुलिस की हरासानी से बचने के लिए फ़ैसल और इस के साथी इमारत से छलांग लगा दी लेकिन फ़ैसल क़रीब में वाकई पानी के सम्प में जा गिरा और इस के सर पर गहरा ज़ख़म आने के बाइस बरसर मौक़ा हलाक हो गया । इस वाक़िया के बाद आसमान गढ़ मलक पेट में हालात अचानक कशीदा हो गए और मुक़ामी नौजवान कसीर तादाद में जमा हो गए ।

पुलिस के इस रवैय्या के ख़िलाफ़ एहतिजाज करना शुरू कर दिया । फ़ैसल की मौत की इत्तिला मिलने पर अस्सिटैंट कमिशनर पुलिस मलक पेट मिस्टर इक़बाल सिद्दीक़ी और दीगर पुलिस अमला वहां पर पहुंचा लेकिन ब्रहम नौजवानों ने पुलिस पर संगबारी की जिस के बाद हालात और कशीदा हो गए । मुक़ामी अफ़राद के मोताबिक सईदा बाद और मादना पेट के फ़िर्क़ा वारना फ़साद के बाद फ़ैसल और इस के साथीयों को गिरफ़्तार करने के लिए चंद दिनों से टास्क फ़ोर्स और स्पेशल तहक़ीक़ाती टीम का अमला मुसलसल मुस्लिम नौजवानों का तआक़ुब कर रहा था जिस से इलाक़ा में ख़ौफ़ का माहौल पैदा हो गया था । आज शाम भी सादा लिबास में मलबूस पुलिस अमला इन नौजवानों को गिरफ़्तार करने के लिए वहां पर पहुंचा था कि फ़ैसल ने इमारत से छलांग लगा दी ।

इसी दौरान एक मुक़ामी रुकन असेंबली भी फ़ैसल के मकान पहुंचे जहां पर उन्हें वालदैन की ब्रहमी का सामना करना पड़ा । हालात कशीदा होने पर पुलिस ने रियापिड ऐक्शन फ़ोर्स और दीगर पुलिस अमला को आसमान गढ़ और अतराफ़ के इलाक़ों में मुतय्यन कर दिया । मुस्लिम नौजवानों ने पुलिस की भारी तादाद में मौजूदगी पर एतराज़ किया और पुलिस जुल्म बंद करो के नारे लगाए । फ़ैसल के रिश्तेदारों ने इस नौजवान की नाश का पोस्टमार्टम करवाने से इनकार कर दिया जिस के बाइस पुलिस उलझन का शिकार हो गई । बताया जाता है कि रात देर गए फ़ैसल के रिश्तेदारों ने मलक पेट पुलिस स्टेशन पहुंच कर उन पुलिस ओहदेदारों के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा दर्ज करने और उन के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने का मुतालिबा किया जिन्हों ने फ़ैसल का ग़ैर ज़रूरी तआक़ुब करते हुए उसे ख़ौफ़ज़दा किया था जिस के बाइस वो फ़ौत हो गया ।

आज़म पूरा डीवीझ़न के कारपोरीटर मिस्टर अमजदउल्लाह ख़ान ख़ालिद फ़ैसल के मकान पहुंच कर वालदैन को पुर्सा दिया और पुलिस का मुस्लिम नौजवानों को मुसलसल हिरासाँ करने पर एहतिजाज किया । ज़राए ने बताया कि नाश को पोस्टमार्टम के लिए उस्मानिया दवाख़ाना मुंतक़िल किया गया है।

TOPPOPULARRECENT