Friday , October 20 2017
Home / India / पूंछ में पाकिस्तान की जंग बंदी की ख़िलाफ़वरज़ी

पूंछ में पाकिस्तान की जंग बंदी की ख़िलाफ़वरज़ी

पाकिस्तानी फ़ौजीयों ने जंग बंदी की एक बार फिर ख़िलाफ़वरज़ी करते हुए जम्मू-ओ-कश्मीर के ज़िला पूंछ में ख़त-ए-क़बज़ा पर क़ायम हिन्दुस्तानी चौकीयों को निशाना बनाया और हिन्दुस्तानी फ़ौज को मूसिर जवाबी कार्रवाई करने पर मजबूर कर दिया।

पाकिस्तानी फ़ौजीयों ने जंग बंदी की एक बार फिर ख़िलाफ़वरज़ी करते हुए जम्मू-ओ-कश्मीर के ज़िला पूंछ में ख़त-ए-क़बज़ा पर क़ायम हिन्दुस्तानी चौकीयों को निशाना बनाया और हिन्दुस्तानी फ़ौज को मूसिर जवाबी कार्रवाई करने पर मजबूर कर दिया।

पाकिस्तानी फ़ौजीयों ने ख़ुदकार और छोटे असलाह से मेंढर के इलाक़े में फ़ौजी चौकीयों पर ज़बरदस्त फायरिंग की। महिकमा दिफ़ा के तर्जुमान मनीष ने कहा कि सरहद पर तैनात हिन्दुस्तानी फ़ौजीयों ने जवाबी कार्रवाई की।

किसी भी शख़्स के हलाक या ज़ख़मी होने की कोई ख़बर नहीं है। क़ब्लअज़ीं 27 जून को पाकिस्तानी फ़ौज ने ख़ुदकार और छोटे असलाह से भीम भीर गली गंभीर ज़िला पूंछ में हिन्दुस्तानी चौकीयों पर फायरिंग की थी।

पाकिस्तानी फ़ौज ने सांबा ज़िला में 17 और 18 जून को भी बैन-उल-अक़वामी सरहद पर जंग बंदी की ख़िलाफ़वरज़ी की थी । 13 जून को पाकिस्तानी फ़ौज को ज़बरदस्त मार्टर श‌लबारी की थी और ख़ुदकार हथियारों से ख़त क़बज़ा पर हिन्दुस्तानी चौकीयों पर फायरिंग की थी।

ख़त क़बज़ा पर अप्रैल ता मई जंग बंदी की ख़िलाफ़वरज़ी के 19 वाक़ियात पेश आए थे। 2013 में 12 जवान हलाक और दीगर 41 ज़ख़मी होगए थे जबकि पाकिस्तानी फ़ौज ने हरअव्वल चौकीयों पर जंग बंदी की ख़िलाफ़वरज़ी करते हुए फायरिंग की थी।

शहरी इलाक़ा और तिलाई गर्द पार्टीयों को भी सरहद पर हमले का निशाना बनाया गया था।

TOPPOPULARRECENT