Thursday , August 24 2017
Home / Khaas Khabar / पेरिस:ऑपरेशन में चली 5000 गोलियां, मैदाने जंग में तब्दील हो गया था सेंट डेनिस,

पेरिस:ऑपरेशन में चली 5000 गोलियां, मैदाने जंग में तब्दील हो गया था सेंट डेनिस,

पेरिस : 19 नवंबर
फ्रांस में पुलिस कमांड़ों ने राजधानी पेरिस के उपनगर सेंट डेनिस में एक अपार्टमेंट में छिपे हथियारों से लैस जेहादियों के दल को पकड़ने के लिए कल सात घंटे तक कड़ी मश्क्कत की, इस दौरान पांच हजार से ज्यादा गोलियां चलीं और पूरा इलाका एक मैदाने जंग में तब्दील हो गया।

पेरिस के लोक अभियोजक फ्रांस्वा मोलिन्स ने मुहीम खत्म होने के बाद रिपोर्टरों को बताया कि कि यह लड़ाई इतनी शदीद थी कि अपार्टमेंट में घुसने के बाद भी पुलिस मारे गए आतंकवादियों की न तो शिनाख्त कर पाई और न ही मारे गए आतंकवादियों की संख्या के बारे में कुछ भी पता चल पाया।

पेरिस हमले के मास्टरमाइंड अब्देलहामिद अबाउद के अपाटर्मेंट में छिपे होने की खुफिया खबर मिलने के बाद 70 कमांडरों के एक विशाल दल ने अपार्टमेंट को चारों ओर से घेर लिया। कमांडरों की मदद के लिए 40 पुलिस वालों को भी लगाया गया। सुबह होने से पहले ही इस कार्रवाई को शुरू कर दिया गया था। सुबह 4 बज कर 16 मिनट पर कमांडोज ने बड़ी संख्या में गोलियां चलाई और अपार्टमेंट की तीसरी मंजिल में चढने के लिए आगे बढे।

‘रेड’ अभियान के चीफ ने बताया कि इसके बाद थाह लेने के लिए खोजी कुत्ते को भेजा गया, लेकिन आतंकवादियों ने उसे गोली मार दी।

मोलिन्स ने बताया कि इसके बाद एक महिला ने उन पर लगातार गोलियां चलाईं, इसके बाद तेज धमाका हुआ और खिड़की के शीशे चकनाचूर हो कर नीचे बिखर गए। शीशें के टुकडों के साथ ही हमलावर के लाश का कुछ हिस्सा भी उनकी कार पर आ कर गिरा। आतंकवादियों के बारे में जानकारी लेने के लिए पुलिस ने कैमरे वाले रोबोट को भी अंदर भेजने का प्रयास किया, लेकिन चारों तरफ फैले मलबे के की वजह से कोशिश कामयाब नहीं हुआ।

अंदर से गोलियां फिर भी चलती रहीं। काफी मशक्क्त के बाद कमांडरों ने तीसरे तल की लांड्री में छिपे दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान इमारत के अंदर और बाहर से कुल सात लोगों और एक औरत को गिरफ्तार किया गया है। पूरे मुठभेड में पांच जवान घायल हो गए हैं।

अभियान के बाद राष्ट्रपति फांस्वा ओलांद ने कहा कि यह एक बेहद खतरनाक और मुश्किल अभियान था और सुरक्षा बल के जवानों को यहां होने वाली लड़ाई का अंदाजा नहीं था।

TOPPOPULARRECENT