Tuesday , August 22 2017
Home / Sports / पैर में चोट और पैसे की तंगी के बावजूद शिवा केशवन ने जीता एशियाई चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल

पैर में चोट और पैसे की तंगी के बावजूद शिवा केशवन ने जीता एशियाई चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल

नगाओ : पांच बार विंटर ओलंपिक में हिस्सा ले चुके भारत के शिवा केशवन ने जापान के नगाओ में एशियाई ल्यूज चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीत बड़ी उपलब्धि दर्ज की है। केशवन ने चैंपियनशिप में अपना दबदबा बनाए रखा और दो हीट की रेस में एक मिनट 39.962 सेकंड का बेहतरीन समय निकाला। स्पर्धा में उनकी रफ्तार 130.4 किलोमीटर प्रति घंटा रही और पहले स्थान पर रहकर उन्होंने गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

मेजबान जापान के तनाका शोहेई एक मिनट 44.874 सेकंड और 124.6 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार के साथ दूसरे स्थान पर रहे और सिल्वर मेडल जीता। केशवन के लिए स्पाइरल ओलंपिक ट्रैक पर हुई इस स्पर्धा से पहले का सफर काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा। इसी सप्ताह ट्रेनिंग के दौरान वह दुर्घटना का शिकार हो गए, जिससे उनकी स्लेड टूट गई और उनके बाएं पैर में भी चोट आई। इस कारण से वह आधिकारिक अभ्यास में भी हिस्सा नहीं ले सके थे। हालांकि शिवा ने जिस तरह से प्रदर्शन किया कहीं से नहीं लगा कि वो बिना प्रैक्टिस के हिस्सा ले रहे हैं।

इसके अलावा पैसों की तंगी के कारण वह इसी साल हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी हिस्सा नहीं ले सके थे। उन्होंने तमाम परेशानियों के बावजूद गोल्ड मेडल जीतने पर खुशी जताते हुए कहा, ‘इस बार मैंने गोल्ड जीतने की ठान ली थी और मैं किसी भी बात से घबराया नहीं। इतनी परेशानियों के बावजूद मैंने रेस में जोखिम उठाने का निर्णय किया।’

भारतीय एथलीट शिवा वर्ष 2017 में ऑस्ट्रिया के इन्सब्रुक में होने वाली वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेंगे। वह साथ ही वर्ल्ड कप सर्किट स्पर्धाओं में भी हिस्सा लेंगे जिसके जरिए वह कोरिया में होने वाले 2018 विंटर ओलंपिक क्वालिफिकेशन प्रक्रिया में जगह बना सकेंगे।

TOPPOPULARRECENT