Saturday , August 19 2017
Home / Islam / पैसा कमाने के लिए विदेशों में गोमांस भेज रही सरकार तो देश में गौ-रक्षकों का दिखावा क्यों: शंकराचार्य

पैसा कमाने के लिए विदेशों में गोमांस भेज रही सरकार तो देश में गौ-रक्षकों का दिखावा क्यों: शंकराचार्य

बीफ एक्सपोर्ट में भारत का पूरे दुनिया में पहले नंबर पर होने का दावा करते हुए द्धारका शारदापीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि यह भारत के लिए बहुत ही शर्मनाक बात है. जहाँ देश में गाय के नाम पर दंगे हो रहे है। देश में गोमांस बैन करने की बात करती है और दूसरी गोमांस को विदेशों में भेज कर पैसा कमाने में लगी हुई है ये दोहरी रणनीति सरकार क्यों अपना रही है कोई ये सवाल क्यों नहीं उठा रहा? एक तरफ गोसेवक दलितों और मुस्लिम समुदाय पर आए दिन गोमांस पकाने और खाने के इल्जाम मढ़ते हैं, उन्हें मारते-पीटते हैं। दूसरी तरफ खुद उसी गाय को काट कर देश में गलत लेकिन विदेश में भेजना उन्हें सही लग रहा है।   शंकराचार्य का कहना है कि जिस देश में गाय की पूजा होती है उसी  देश की सरकार उसका मांस बेचकर विदेशी मुद्रा कमाने में लगी हुई है। देश के बहुत से राज्यों में गौ हत्या पर प्रतिबंध है लेकिन इसके बावजदू आज भारत दुनिया में गौमांस की बिक्री में पहले नंबर पर है।  उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह गौ-रक्षकों को गुंडा और फर्जी गौ-रक्षक कह कर अपमान करते हैं।  देश में चुनी हुई सरकार ही जनता के हितों का ध्यान रखने की बजाय पैसा कमाने में लगी हुई है। देश की प्रमुख नदियों में बांध बनाकर सरकार उनसे बिजली पैदा कर पैसा कमा रही है लेकिन इससे नदियों का पानी दूषित हो रहा है।  देश का विकास भी जरूरी है लेकिन हमारी प्राथमिकता देशवासियों को शुद्ध अनाज और पानी उपलब्ध कराना होना चाहिए  जो हमारी सरकार ठीक से नहीं कर पा रही है।

TOPPOPULARRECENT