Sunday , October 22 2017
Home / Sports / पोंटिंग ऑस्ट्रेलियाई वंडे टीम से ख़ारिज

पोंटिंग ऑस्ट्रेलियाई वंडे टीम से ख़ारिज

रिकी पोंटिंग का वंडे कैरीअर अमलन ख़तम् होता दिखाई दे रहा है जैसा कि टीम को दो मर्तबा टीम को वर्ल्डकप दिलवाने वाले साबिक़ कप्तान को सी बी सीरीज़ के आइन्दा दो मुक़ाबलों के लिए टीम से ख़ारिज कर दिया गया है जिस में हिंदूस्तान और श्रीलंक

रिकी पोंटिंग का वंडे कैरीअर अमलन ख़तम् होता दिखाई दे रहा है जैसा कि टीम को दो मर्तबा टीम को वर्ल्डकप दिलवाने वाले साबिक़ कप्तान को सी बी सीरीज़ के आइन्दा दो मुक़ाबलों के लिए टीम से ख़ारिज कर दिया गया है जिस में हिंदूस्तान और श्रीलंका के ख़िलाफ़ दो मुक़ाबले शामिल है।

अगले दो मुक़ाबलों के लिए मालना 13 रुकनी टीम में मुस्तक़िल कप्तान माईकल क्लार्क और रयान हैरिस की वापसी के साथ ऑल राउंडर शेन वाटसन भी शामिल कर लिए गए हैं। ऑस्ट्रेलियाई सेलेक्शन कमेटी के सब्र का पैमाना लबरेज़ हो चुका है की उनका रवां सहि रुख़ी सीरीज़ में 37 साला पोंटिंग ने 3.6 की औसत से पाँच मुक़ाबलों में सिर्फ 18 रन स्कोर किए हैं।

दरें असना गुज़श्ता रोज़ हिंदूस्तान के ख़िलाफ़ गब्बा में पोंटिंग की ताज़ा तरीन नाकामी उन के वंडे कैरीअर को ख़तम करने में कलीदी रोल अदा कर सकती है। ऑस्ट्रेलियाई सेलेक्टरों के चेयरमैन जान अनोरेरेटी की जानिब से जारी कर्दा ब्यान में कहा गया है कि कॉमनवेल्थ बैंक सीरीज़ के पाँच मुक़ाबलों में पोंटिंग के नाक़िस फ़ार्म के बाइस उन्हें टीम से ख़ारिज कर दिया गया है ।

उन्होंने मज़ीद कहा कि पोंटिंग के बगैर टीम पहले जैसी नहीं रहेगी लेकिन नाक़िस फ़ार्म का शिकार बैट्समैन पोंटिंग को ख़ारिज करते हुए तवील मुद्दती मंसूबा पर अमल पैरा होना इस खेल का फ़ित्री बरताव है। रिकी पोंटिंग के मुताल्लिक़ इज़हार ख़्याल करते हुए जान ने कहा कि इनके रिकॉर्ड्स पोंटिंग के बेहतरीन खिलाड़ी होने का सबूत देते हैं।

पोंटिंग यक़ीनन ऑस्ट्रेलियाई की वंडे क्रिकेट की तारीख के सबसे कामयाब बैट्समैन हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया को मुतवातिर दो मर्तबा वर्ल्डकप दिलवाया है लेकिन उन के हालिया नाक़िस मुज़ाहिरों के पेश नज़र ये सख़्त फैसला लेना पड़ा है ।

पोंटिंग की क़ियादत में पहली मर्तबा ऑस्ट्रेलिया ने जुनूबी अफ्रीका में मुनाक़िदा 2003 वर्ल्ड कप , फाईनल में हिंदूस्तान को शिकस्त दे कर हासिल किया था। बादअज़ां 2007 में वेस्ट इंडीज़ में खेले गए वर्ल्डकप के फाईनल में श्रीलंका को शिकस्त दे कर पोंटिंग की टीम ने अपने ख़िताब का कामयाब दिफ़ा किया था।

दरें असना टीम के कप्तान माईकल क्लार्क ने कहा है कि पोंटिंग बहैसियत टेस्ट खिलाड़ी टीम के लिए दस्तयाब रहेंगे लेकिन फ़िलहाल वंडे में इनका मुक़ाम नहीं है। सेलेक्टर जान ने मज़ीद कहा कि टीम से ख़ारिज किए जाने के बाद उम्मीद है कि आइन्दा चंद दिनों में इन की जानिब से कोई अहम फैसला किया जा सकता है।

ब्रिस्बेन में पोंटिंग ने अपना 375 वां वंडे मुक़ाबला हिंदूस्तान के ख़िलाफ़ खेला है। पोंटिंग का गुज़श्ता 15 बरस से ऑस्ट्रेलियाई वंडे और टेस्ट टीम से गहिरा ताल्लुक़ रहा है जहां उन्होंने टीम के लिए इन्फ़िरादी और इजतिमाई कई फ़ुतूहात हासिल की हैं जो कि एक अज़ीम खिलाड़ी की तर्जुमानी करती है।

TOPPOPULARRECENT