Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / पोस्ट बॉक्स ख़ुतूत की तरसील पर इलेक्ट्रॉनिक निगरानी

पोस्ट बॉक्स ख़ुतूत की तरसील पर इलेक्ट्रॉनिक निगरानी

रियासती महकमा डाक माह दिसंबर के दूसरे हफ़्ता से शहर के लेटर बॉक्स में मौजूद ख़ुतूत की तेज़ रफ़्तारी से तरसील के इक़दामात का आग़ाज़ कर रहा है। महकमा डाक ख़ुतूत के क्लियरेंस के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स आलात के ज़रीए निगरानी रखेगा। आया शहर के

रियासती महकमा डाक माह दिसंबर के दूसरे हफ़्ता से शहर के लेटर बॉक्स में मौजूद ख़ुतूत की तेज़ रफ़्तारी से तरसील के इक़दामात का आग़ाज़ कर रहा है। महकमा डाक ख़ुतूत के क्लियरेंस के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स आलात के ज़रीए निगरानी रखेगा। आया शहर के कितने पोस्ट बॉक्स को खोला गया है और आया कितने पोस्ट बॉक्स में ख़ुतूत मौजूद हैं।

चीफ पोस्ट मास्टर जेनरल ए पी सर्किल बी वी सुधाकर ने आज नुमाइंदा सियासत से बात करते हुए बताया कि महकमा डाक ने इस ज़िमन में सर्वे करने के बाद इस बात को पाया कि कई लेटर बॉक्स ऐसे हैं।

जिन में ख़ुतूत नहीं पाए गए और कई लेटर बॉक्स ऐसे हैं जिन से ख़ुतूत को निकाला नहीं गया। उन्हों ने बताया कि शहर के लेटर बॉक्स पर इलेक्ट्रॉनिक आलात के ज़रीए निगरानी की जाएगी और सेंट्रल कंट्रोल रुम पर डाटा हासिल किया जाएगा। इस के ज़रीए लेटर बॉक्स की तमाम तर जानकारी हासिल हो जाएगी।

उन्हों ने बताया कि रोज़ाना रियासत में 75 लाख और शहर में 20 लाख ख़ुतूत की तरसील अमल में आती है। जब कि सारे मुल्क में 1.72 करोड़ ख़ुतूत की तरसील अमल में आती है।

TOPPOPULARRECENT