Tuesday , September 26 2017
Home / Bihar/Jharkhand / प्रधानमंत्री के दौरे के दौरान झारखंड में हिंसा और बंद

प्रधानमंत्री के दौरे के दौरान झारखंड में हिंसा और बंद

जमशेदपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा के दौरान झारखंड बंद के साथ हिंसा की घटनाएं हुई। कुछ क्षेत्रों में झड़पों की खबरें हैं। राज्य सरकार की नई क्षेत्रीय नीति के विरोध करते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा ने एक दिवसीय बंद का आह्वान किया था। बंद के संदिग्ध समर्थकों ने जिले हनघम पूर्व में एक बस और एक वाटर टैंकर को आग लगा दी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे से पहले हिंसा भड़क गई। प्रधानमंत्री जमशेदपुर में जे आर डी टाटा स्पोर्ट्स कांपलकस में राष्ट्रीय पंचायत राज दिवस समारोह को संबोधित कर रहे थे। यहां से 20 किलोमीटर दूर मूसा बोनी अवरुद्ध बर्फ के पास खड़ी की गई एक बस में जो ग्रामीण क्षेत्रों से भाजपा कार्यकर्ताओं को लाया गया था आग लगा दी गई।

बंद के संदिग्ध समर्थकों ने सुबह में हिंसा की। उप पुलिस अधीक्षक अजीत वीमल कहा कि संदिग्ध बंद समर्थकों ने एक वाटर टैंकर को भी आग लगाई हालांकि जिला पुलिस बल को प्रधानमंत्री के दौरे के अवसर पर हाई अलर्ट रहने की हिदायत दी गई है। प्रधानमंत्री के सभा स्थल के पास जलती बस आग बुझा दिया गया। बंद समर्थकों ने सड़कों पर बाधाएं दी हैं। सड़क साफ करने के लिए उप अधीक्षक स्थान पर पहुंच गए और पांच लोगों को हिरासत में लिया गया। झामुमो विधायक कारसावां गारगटी सहित 300 बंद समर्थकों को एहतियाती तौर पर हिरासत में रखा गया है।

TOPPOPULARRECENT