Monday , May 29 2017
Home / Politics / प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी EVM की विश्वसनीयता पर उठे सवाल

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी EVM की विश्वसनीयता पर उठे सवाल

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की विश्वसनीयता पर सवाल उठने लगे हैं। वाराणसी के पूर्व सांसद और 2017 के विधानसभा चुनाव लड़ चुके प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए ईवीएम मशीनों पर कई सवाल उठाए।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्रदेश 18 के अनुसार,प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेश मिश्रा ने केंद्र की सत्तारूढ़ भाजपा के केंद्रीय नेताओं के इशारों पर ईवीएम में गड़बड़ी करके मतदान को प्रभावित करने का आरोप लगाया और कहा कि वह इस संबंध में जल्द ही सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। उन्होंने कहा कि इन मशीनों की देखरेख का काम निजी कंपनियों को दिया गया था और कंपनी के प्रतिनिधियों द्वारा बड़े पैमाने पर गड़बड़ी करके भाजपा के उम्मीदवारों को कामयाब कराया गया।

गौरतलब है कि बसपा की अध्यक्ष मायावती ने चुनाव परिणाम की रुझान आते ही ईवीएम मशीनों पर सवाल उठाया था। इन में गड़बड़ी की आशंका जताई थी। उधर गोवा और पंजाब में आशा के विपरीत परिणाम आने से परेशान आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ईवीएम मशीनों के साथ छेड़छाड़ की आशंका जताई है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT