Saturday , October 21 2017
Home / India / प्रियंका की सेक्रेटरी और स्मृति ईरानी के बीच‌ बहस-ओ-तकरार

प्रियंका की सेक्रेटरी और स्मृति ईरानी के बीच‌ बहस-ओ-तकरार

प्रियंका गांधी की सेक्रेटरी प्रीति सहाय को बी जे पी की जानिब से दाख़िल करदा एक शिकायत के बाद अमेठी से चले जाने की हिदायत की गई।

प्रियंका गांधी की सेक्रेटरी प्रीति सहाय को बी जे पी की जानिब से दाख़िल करदा एक शिकायत के बाद अमेठी से चले जाने की हिदायत की गई।

बी जे पी ने अपनी शिकायत में कहा है कि प्रीति सहाय इंतिख़ाबी हलक़ों में वोटर्स को राग़िब करने की कोशिश कर रही थीं। बी जे पी उम्मीदवार स्मृति ईरानी की शिकायत पर इलेक्शन कमीशन ने प्रीति सहाय को अमेठी से चले जाने की हिदायत की। डिस्ट्रिक्ट इलेक्टोरल ऑफीसर जगत राय त्रिपाठी ने कहा कि प्रीति सहाय का हल्क़ा-ए-इंतख़ाब में मौजूद होना इंतिख़ाबी ज़ाबता अख़लाक़ के खिलाफ‌ है।

स्मृति ईरानी और प्रीति सहाय में बहस-ओ-तकरार भी हुई कि स्मृति ईरानी ने जगदीश पुर के एक हलक़ा राय दही पर प्रीति सहाय की मौजूदगी पर एतराज़ किया था और इस वाक़िया के बाद ही बी जे पी ने इलेक्शन कमीशन में शिकायत दर्ज करवाई। जब स्मृति ईरानी जगदीश पुर के मौज़ा ठोरी में वाके बूथ नंबर 210 और 211 पर पहुंचीं तो उन्होंने देखा कि वहां प्रियंका गांधी की सेक्रेटरी प्रीति सहाय भी मौजूद हैं जिस पर स्मृति ईरानी ने उनसे पास तलब किया लेकिन प्रीति ने पास नहीं दिखाया कि वो उनके पास था ही नहीं।

स्मृति ईरानी के पी आर ओ अशोक पटेल ने अख़बारी नुमाइंदों को बताया कि प्रीति सहाय का बूथ में दाख़िल होना गैरकानूनी हरकत है। डिस्ट्रिक्ट इलेक्टोरल ऑफीसर ने उस वक़्त एक दिलचस्प बात कही कि स्मृति ईरानी की जानिब से हमें शिकायत ज़रूर मिली है।

मैं तो दोनों ही ग़लत मालूम होते हैं। अव्वल तो प्रीति सहाय को बूथ के अंदर नहीं आना चाहिए था। दूसरे ये कि स्मृति ईरानी को भी बूथ के अंदर आकर सहाय के साथ बदसुलूकी नहीं करनी चाहिए थी। बहरहाल प्रीति सहाय को फ़ौरी अमेठी छोड़ देने की हिदायत की गई है।

TOPPOPULARRECENT