Wednesday , August 16 2017
Home / AP/Telangana / प्रोजेक्टस के डिज़ाइन में तबदीली,काबीना की मंज़ूरी

प्रोजेक्टस के डिज़ाइन में तबदीली,काबीना की मंज़ूरी

हैदराबाद 04 जून:तेलंगाना काबीना की मीटिंग चीफ़ मिनिस्टर के चन्द्रशेखर राव‌ की सदारत में हैदराबाद में मुनाक़िद हुवी। ये मीटिंग तक़रीबन 3 घंटे तक जारी रही जिसमें कई अहम फ़ैसले किए गए।

रियासत में तामीर किए जानेवाले अहम आबपाशी प्रोजेक्ट्स के डिज़ाइन में तबदीली को काबीना ने मंज़ूरी दे दी। इस के अलावा महाराष्ट्रा हुकूमत से पानी की तक़सीम के सिलसिले में किए गए मुआहिदात को भी मंज़ूर कर लिया गया। इनामी आराज़ीयात के तहफ़्फ़ुज़ और उन के लिए यकसाँ क़ानून की तैयारी को काबीना ने मंज़ूरी दी। इस के अलावा रियासत में फिशरीज़ साइंस कॉलेज के क़ियाम, माईक्रो इरीगेशन की हौसला-अफ़ज़ाई और मंदिरों की तरक़्क़ी के लिए काबीनी सब कमेटी के क़ियाम को मंज़ूरी दी गई। काबीना के मीटिंग में मुख़्तलिफ़ प्रोजेक्ट्स के डिज़ाइन में तबदीली की तफ़सीलात से वुज़रा को वाक़िफ़ किराया गया और साथ ही डिज़ाइन में तबदीली से आबपाशी सहूलतों में इज़ाफे के फ़वाइद से आगाह किया गया।

आबपाशी शोबा के माहिरीन ने ये तफ़सीलात पेश की। डिज़ाइन में तबदीली के लिए काबीनी सब कमेटी ने जो सिफ़ारिशात पेश की हैं उन्हें मंज़ूरी दी गई। परइन्हीता चेवड़ला, देव उफ्ग्द्दौला प्रोजेक्ट की री डिज़ाइनिंग को मंज़ूरी दी गई। कंतनापल्ली , सीताराम भक्त राम दास, राजीव सागर, इंदिरा सागर, एसआरएस पी प्रोजेक्ट्स की री डिज़ाइनिंग को मंज़ूरी दी गई। मजमूई तौर पर 19 प्रोजेक्ट्स के डेज़ आईन में तबदीली की जा रही है।

हुकूमत ने इस सिलसिले में काबीनी सब कमेटी तशकील दी थी जिसमें माहिरीन से मुशावरत के बाद अपनी सिफ़ारिशात पेश की। दरयाए गोदावरी पर प्रोजेक्ट की तामीर के सिलसिले में हाल ही में महाराष्ट्रा हुकूमत से किए गए मुआहिदात को मंज़ूरी देते हुए काबीना ने इस एहसास का इज़हार किया कि ये मुआहिदात से तेलंगाना में ख़ुशकसाली की सूरत-ए-हाल से निमटने में मदद मिलेगी।

ओहदेदारों को हिदायत दी गई है कि वो इनामी आराज़ीयात के तहफ़्फ़ुज़ और उन के लिए यकसाँ क़ानून की तैयारी के सिलसिले में हुकूमत को रिपोर्ट पेश करें। काबीना ने आराज़ीयात को बाक़ायदा बनाने और फ़ाज़िल आराज़ीयात के इस्तेमाल के सिलसिले में रिपोर्ट पेश करने की ओहदेदारों को हिदायत दी है। चीफ़ मिनिस्टर ने ओहदेदारों से कहा कि वो तेलंगाना में फ़ूड प्रासेसिंग यूनिट्स पर नज़र रखें और अश्या-ए-ज़रुरीया में मिलावट पर क़ाबू पाने के लिए सख़्त इक़दामात करें।

TOPPOPULARRECENT