Wednesday , October 18 2017
Home / Sports / फ़ेडरर 1000 वीं मुक़ाबला में कामयाबी के साथ सेमीफाइनल में

फ़ेडरर 1000 वीं मुक़ाबला में कामयाबी के साथ सेमीफाइनल में

मैलबोर्न, २५ जनवरी ( ए पी ) राजर फ़ेडरर ने आज ऑस्ट्रेलियन ओपन में खेले गए मुक़ाबला के ज़रीया अपनी कैरीयर का 1000वां मुक़ाबला खेला है और इस मुक़ाबला के आग़ाज़ से ही उन्हों ने अपने हरीफ़ पर दबदबा बनाना शुरू किया ।

मैलबोर्न, २५ जनवरी ( ए पी ) राजर फ़ेडरर ने आज ऑस्ट्रेलियन ओपन में खेले गए मुक़ाबला के ज़रीया अपनी कैरीयर का 1000वां मुक़ाबला खेला है और इस मुक़ाबला के आग़ाज़ से ही उन्हों ने अपने हरीफ़ पर दबदबा बनाना शुरू किया ।

4मर्तबा के चैम्पियन फ़ेडरर आज यहां मुतवातिर नौवीं मर्तबा ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल के रसाई हासिल कर ली है जैसा कि उन्हों ने आज अपने क्वार्टरफाइनल मुक़ाबला में यान मार्टिन डील पोट्रो को रास्त सेटों में 6-4 6-3 6-2 से शिकस्त दी है ।

डील पोट्रो ने फ़ेडरर को 2009-ए-यू ऐस ओपेन के फाईनल में शिकस्त दी थी ।सेमीफाइनल में फ़ेडरर का मुक़ाबला उन के कट्टर हरीफ़ राफ़ल नडाल से होगा । जिन्हों ने साढे़ चार घंटे तवील मसह बिकती मुक़ाबला में टॉमस बर्डिच को 6-7(5) 7-6(6) 6-4 6-3 से शिकस्त दी है।

कामयाबी के बाद इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए फ़ेडरर ने कहा कि मैंने मुतअद्दिद मुक़ाबले और बहुत ज़्यादा टेनिस खेले है ।

तवील अर्सा से टेनिस खेल रहा हूँ या फिट हो ये फ़ैसला आप कर सकते हैं क्योंकि में अपनी इस रिकार्ड फ़तह पुर मसरूर हूँ । फ़ेडरर का कैरीयर 16 ग्रांड सलाम फ़ुतूहात का मज़हर भी है जो कि किसी भी खिलाड़ी की जानिब से सिंगल्स ग्रांड सलाम का आलमी रिकार्ड है ।

यहां मैलबोर्न पार्क में शानदार मुज़ाहरा कर रहे फ़ेडरर का ग्रांड सलाम मुक़ाबलों में कामयाबी के आदाद-ओ-शुमार 232-34 हैं नीज़ अगर वो सेमीफाइनल और फाईनल में कामयाबी हासिल करते हैं तो वो जमी कॉर्नर के 233फ़ुतूहात के रिकार्ड को पीछे छोड़ देंगे ।

क्वार्टरफाइनल में फ़ेडरर के ख़िलाफ़ डील पोट्रो से एक बेहतर और मसह बिकती मुक़ाबला की उम्मीद की जा रही थी हालाँकि उन्हों ने चंद बेहतरीन स्ट्रोकस खेलते हुए कलाई के ज़ख़म से मुकम्मल सेहतयाबी का इशारा दिया है जिस की वजह से उन्हें 2010-ए-के सीज़न में बेशतर टूर्नामैंट में शिरकत से गुरेज़ करना पड़ा ।

फ़ेडरर ने आज इस मुक़ाबला में पहला सेट अपने नाम करते हुए 813 मुक़ाबलों के दौरान 2000वां सीट अपने नाम किया जो कि एक और आलमी रिकार्ड है । दूसरे सेट में फ़ेडरर ने 5-3 के मौक़ा पर अपना चौथा ब्रेक प्वाईंट महफ़ूज़ करते हुए सेट को अपने नाम किया हालाँकि इस मौक़ा पर उन्हों ने कामयाबी का कोई पुरजोश जश्न नहीं मनाया । मुक़ाबला के बाद इस हवाले से गुफ़्तगु करते हुए फ़ेडरर ने कहा कि वो इस लिए सेट की कामयाबी पर ज़्यादा जश्न नहीं मनाते क्योंकि ये कामयाबी की सिम्त सिर्फ एक क़दम होता है ।

जब कि अगले सेटों में हालात तबदील भी हो सकते हैं । आज खेले गए ख़ातून ज़मुरा के क्वार्टरफाइनल में दिफ़ाई चैम्पियन कम क्लाइस्टर्स ने आलमी नंबर एक डेनमार्क की कैरोलीन वो ज़न्निया की को 6-3 7-6(4)से शिकस्त देते हुए ना सिर्फ नौजवान खिलाड़ी को टूर्नामैंट से बाहर का रास्ता दिखाया बल्कि उन्हें आलमी दर्जा बिन्दी में अपने पहले मुक़ाम के नुक़्सान को भी बर्दाश्त करने पर मजबूर किया है ।

क्लाइस्टर्स का सेमीफाइनल में मुक़ाबला विक्टोरिया उज़्र निका से होगा जिन्हों ने पहले सेट में नाकामी के बावजूद पोलैंड की एग्नसज़ का राडोनसका को 6-7(0) 6-0 -2से शिकस्त दी है । कैरोलीन के नंबर एक मुक़ाम से हटने के बाद जिन तीन खिलाड़ियों के नंबर एक होने का इमकान है इन में विक्टोरिया उज़्र निका के इलावा मारीया शारापोवा और पेट्रो कुवैतवा भी शामिल हैं ।

पैर के ज़ख़म से परेशान क्लाइस्टर्स ने कामयाबी के बाद इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि तजज़िया निगारों ने मेरे कैरीयर को ख़तम् क़रार दिया था लेकिन मैं समझती हूँ कि मुझ में हनूज़ टेनिस बाक़ी है ।

दूसरी जानिब कैरोलीन वो ज़न्निया की को अपने पहले मुक़ाम को बरक़रार रखने केलिए कम अज़ कम ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल तक रसाई नागुज़ीर थी लेकिन उन्हों ने क्लाइस्टर्स के ख़िलाफ़ दूसरे सेट में बेहतरीन और जारिहाना खेल का मुज़ाहरा करते हुए मुक़ाबला में वापसी की नाकाम कोशिश की।

TOPPOPULARRECENT