Saturday , October 21 2017
Home / Sports / फिक्स्ड फुटबॉल मुक़ाबलों की तादाद 680: यूरो पोल

फिक्स्ड फुटबॉल मुक़ाबलों की तादाद 680: यूरो पोल

दीहेग 7 फरवरी: योरोपी यूनीयन के स्पैशल पुलिस यूनिट (यूरो पोल) ने कहा है कि इस ने यूरोप में 2008-ए-ता 2011-ए‍के बीच 380 फुटबॉल मुक़ाबलों के फिक्स्ड होने के शवाहिद हासिल किए हैं जबकि अफ़्रीक़ा, एशीया और जनूबी अमेरीका में ये तादाद 300 है। दीहेग में यूरो पोल के सरबराह रौब वैन राइट ने कहा कि इस मुआमले के पीछे एशीया में क़ायम एक क्रीमिनल नैटवर्क सामिल‌ है।

उनके मुताबिक़ पंद्रह ममालिक में 420 अफ़राद इस मैच फिक्सिंग में सामिल‌ हैं। उन्होंने वाज़ह तौर पर फिक्स्ड होने वाले मुक़ाबलों के बारे में नहीं कहा, लेकिन इस में चम्पिय‌नस लीग और वर्ल्ड कप क्वालीफाइंग जैसे बड़े ईवंट के शामिल होने का ज़िक्र किया। खासतौर पर इंगलैंड में तीन, चार साल पहले खेले गए चम्पिय‌नस लीग के मैच पर हमारी मुकम्मल नज़र रही।

उन्होंने कहा कि इस मुआमले की तहकीकात जारी हैं और इस बारे में मज़ीद तफ़सीलात को फ़िलवक़्त सामने पर नहीं लाया जा सकता। ताहम मुख़्तलिफ़ हलक़ों में इस बात का यक़ीन ज़ाहिर किया जा रहा है कि चम्पिय‌नस लीग के जिस मैच का ज़िक्र किया जा रहा है, वो 2009-ए-में इंग्लिश कलब लीवरपूल और हंगरी की टीम डीबरसीन के बीच‌ खेला गया जो लीवरपूल ने एक गोल से जीत लिया था।

इस बारे में हुक्काम का कहना है कि उन्हें लीवरपूल पर शक नहीं जबकि ख़ुद लीवरपूल कलब का कहना है कि यूरो पोल की जानिब से उन से इस सिलसिले में कोई ताल्लुक‌ नहीं किया गया है। रौब वैन राइट का कहना है कि ये योरोपी फुटबॉल के लिए एक अफ़सोसनाक दिन है। ये अब फुटबॉल के वक़ार का सवाल बन गया है। फ़ीफ़ा से ताल्लुक़ रखने वाले राल्फ मोटशके का इस तनाज़ा के बारे में कहना है कि प्रासीक्यूटरस और फुटबॉल के इदारों को इस ज़िमन में मिल कर काम करना होगा।

TOPPOPULARRECENT