Thursday , August 24 2017
Home / Entertainment / फिल्म में अनुपम खेर करेंगे मनमोहन सिंह का किरदार

फिल्म में अनुपम खेर करेंगे मनमोहन सिंह का किरदार

मुम्बई : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के जीवन से जुड़ी एक फिल्म में बॉलिवुड ऐक्टर अनुपम खेर उनका किरदार निभाएंगे। यह फिल्म मनमोहन के मीडिया अडवाइजर रहे संजय बारू की किताब पर आधारित होगी। बारू की किताब ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर: द मेकिंग ऐंड अनमेकिंग ऑफ मनमोहन सिंह’ 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले बाजार में आई थी। इसमें मनमोहन के प्रधानमंत्री के तौर पर पहले कार्यकाल की तीखी समीक्षा की गई है।

फिल्म के दिसंबर 2018 में रिलीज होने की संभावना है। इसका पहला लुक बुधवार को पेश किया जाएगा। फिल्म के प्रड्यूसर सुनील बोहरा का कहना है कि यह फिल्म एक बड़े राजनीतिक ड्रामा जैसी होगी और यह अकैडमी अवॉर्ड जीतने वाली रिचर्ड एडिनबैरो की 1980 के दशक में आई ‘गांधी’ फिल्म से भी भव्य होगी। फिल्म का स्क्रीनप्ले राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता हंसल मेहता ने लिखा है। इस फिल्म के साथ विजय रत्नाकर गुट्टे पहली बार निर्देशन में उतर रहे हैं। मनमोहन की भूमिका निभाने के लिए खेर का नाम तय हो चुका है और अब फिल्म के लिए बाकी अभिनेताओं की तलाश की जा रही है।

‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ और ‘साहेब बीवी और गैंगस्टर’ जैसी फिल्मों को को-प्रड्यूस कर चुके बोहरा ने बताया कि फिल्म पर रिसर्च पहले ही पूरी हो चुकी है। बाकी अभिनेताओं के ऑडिशन का काम अंतिम चरण में है। खेर ने इस भूमिका के लिए हामी भरने की पुष्टि की है। उन्होंने ईटी से कहा, ‘समकालीन इतिहास में किसी व्यक्ति की भूमिका निभाना बहुत चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि इसे लेकर तुरंत तुलना की जाएगी। वैसे मैंने अपने पहली फिल्म ‘सारांश’ के साथ ही चुनौतियां लेने की शुरुआत कर दी थी। मैं प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का किरदार निभाने के अनुभव का इंतजार कर रहा हूं।’

गुट्टे एक अनूठे प्रॉजेक्ट के साथ बॉलिवुड में डायरेक्टर के तौर पर अपनी पारी की शुरुआत करने से खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि इस कहानी को पूरी ईमानदारी से पेश करना होगा। इस फिल्म के लिए एक निपुण कलाकार की जरूरत थी। मेरा मानना है कि प्रधानमंत्री का किरदार निभाने के लिए जरूरी परिपक्वता और काबिलियत केवल अनुपम खेर में ही हो सकती थी।’

इस प्रॉजेक्ट से जुड़े लोगों ने बताया कि फिल्म में मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री कार्यालय में कामकाज के तरीके पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। पेशे से पत्रकार रहे संजय बारू ने मनमोहन से 2004 में प्रधानमंत्री बनने के साथ उनके मीडिया सलाहकार के तौर पर जुड़े थे। वह अगस्त 2008 तक इस पद पर रहे थे। उनकी किताब से 2014 में एक राजनीतिक तूफान पैदा हो गया था। इससे कांग्रेस को लोकसभा चुनाव के दौरान शर्मिंदगी उठानी पड़ी थी। इस चुनाव को बीजेपी ने भारी बहुमत के साथ जीता था।

TOPPOPULARRECENT